विज्ञापन

वाराणसी। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण एवं उससे बचाव के लिए युद्ध स्तर पर कार्य किए जा रहे हैं।  गंगापुर टाउन एरिया के जो मरीज पॉजिटिव थे और उनकी मृत्यु हो चुकी है। उनके घर के लोगों की स्क्रीनिंग कराया गया था। इसका संदेह पहले से ही रहा, क्योंकि उनका बेटा भी कलकत्ता गया था। मृतक के पत्नी व बहू का सैंपल रिजल्ट पॉजिटिव आया है और सभी का नेगेटिव आया। जिन दोनों लोगों का रिपोर्ट पॉजिटिव आया है, उन लोगों को पं0 दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराकर इलाज कराया जा रहा है।

पूरे टाउन एरिया की होगी स्क्रीनिंग 
जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि किस क्षेत्र में पहले 2-4 वार्ड लिए गए थे, किंतु अब पूरे टाउन एरिया का स्क्रीनिंग कराया जाएगा। जिन लोगों में सर्दी, खासी, जुकाम, बुखार, टीवी या कैंसर आदि रोग के सिम्टम्स हैं। उन सभी का स्क्रीनिंग कराने के लिए टीमें लगा दी गई है। दो-तीन दिनों में स्क्रीनिंग करा ली जाएगी। स्क्रीनिंग के दौरान जिनमें भी लक्षण पाए जाएंगे, उन सभी का सैंपलिंग कराया जाएगा। हॉटस्पॉट की तरह कार्यवाही की जाएगी और जो भी लोग होंगे सभी का स्क्रीनिंग कराया जाएगा।

घबराने की जरुरत नहीं 
इसके साथ ही उन्होंने  ने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि जिला प्रशासन का प्रयास है कि हम पॉजीटिव केस खोज कर उसका इलाज करा सकें। उन्होंने लोगों को पूरी तरह आश्वस्त करते हुए भरोसा दिया तथा कहा कि घबराने की कोई जरूरत नहीं है। यहां पर 2 केस पॉजिटिव रहे और उनका इलाज कराया गया तथा वर्तमान में वे दोनों लोग नेगेटिव होकर अपने घर जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि जनपद में कुल 9 केस कोरोना के रहे। दो व्यक्ति ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं, जबकि एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई तथा 6 व्यक्ति आइसोलेट वार्ड में और उनका इलाज चल रहा है।

उचित मूल्य पर लोगों को मिले खाद्य सामग्री
जिलाधिकारी ने बुधवार को विशेश्वरगंज गल्ला मंडी का दौरा करने के दौरान वहां के गल्ला व्यापारियों से वार्ता के दौरान उन्हें निर्देशित करते हुए कहा कि खाद्य सामग्रियों का मूल्य कंट्रोल में रहे, इसलिए मूल्य सूची वे अवश्य प्रदर्शित करें तथा अन्य फुटकर दुकानदार भी अपनी दुकानों पर मूल्य सूची अवश्य लगाएं। जिससे किसी भी प्रकार की मुनाफाखोरी की संभावना न रहे और लोगों को उचित मूल्य पर ही खाद्य एवं आवश्यक सामग्री प्राप्त हो सके।

बैंकों पर भी सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से कराया जाएगा पालन
जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि लॉक डाउन के दौरान शासन द्वारा विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत लोगों को उनके बैंक खातों के माध्यम से उपलब्ध कराए गए सहायता धनराशि को प्राप्त करने के लिए बैंकों पर जाने वाले लोगों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित कराए जाने हेतु बैंकों पर पुलिस की ड्यूटी लगाई जा रही है।

इसके साथ ही अग्रणी बैंक प्रबंधक सहित अन्य प्रमुख बैंकों के प्रतिनिधियों को निर्देशित कर बैंक शाखाओं एवं एटीएम आदि स्थानों पर हर हालत में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित कराए जाने की हिदायत दी गई है।

विज्ञापन