विज्ञापन

वाराणसी। चौबेपुर पुलिस ने सोमवार को फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर कर ठगी करने वाले दो अभियुक्तों को डुबकिया रेलवे क्रासिंग के पास से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने अभियुक्तों के पास से दो मोबाइल बरामद किया है। पुलिस के अनुसार गिरफ्तार अभियुक्तों में राज सिंह एवं आकाश सिंह डुबकिया थाना चौबेपुर के रहने वाले है।

विज्ञापन

पूछताछ के दौरान अभियुक्त राज द्वारा बताया गया कि हमलोग बेरोजगार है, अपनी जरूरतो को पूरा करने के लिये लड़कियो के नाम से फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर उस पर लड़की की फोटो व प्राकृतिक तस्वीरे लगा देते है। फ्रेड रिक्वेस्ट आने पर स्वीकार करके लड़की बनकर चैटिंग करते है। आदमी व लड़के झांसे मे आ जाते है, तो उनसे अश्लील बाते कर उनसे अपनी जरूरतों के नाम पर रुपया ऐठ लेते है। रुपया मैं अपने पेटीएम तथा घरवालों तथा दोस्तों के पेटीएम पर मांगता हूं।

विज्ञापन

आकाश ने बताया कि मैने कोई आईडी नही बनाई है। मैं राज की ही ID से चैटिंग करके एक दो बार अपने पेटीएम पर पैसे मंगाए है। बाकी राज ही मेरे पेटीएम पर पैसा मांगता था।

विज्ञापन

दोनो ने बताया कि जब कोई आदमी लड़की से बात करना चाहता था तो कन्फैंस के जरिए अपनी महिला मित्र संध्या यादव तथा रीतू सिंह से बात करा देते थे फिर और पैसे देने में लोग देखने के बाद पैसे देने की बात कहते थे तब हम लोग किसी होटल या कमरे मे अपनी महिला मित्रो का चेहरा छुपवाकर अश्लील वीडियो दिखवा देते थे, जिससे लोग दिवाने होकर मोटी रकम हमारे पेटीएम पर भेज देते थे। जिससे हम लोग राज कम्यूनिकेशन डुबकिया बाजार जो राज की है।

विज्ञापन

राजू जयसवाल की डुबकिया मे मोबाइल की दुकान पर 10 % कमीशन देकर नकद कैस प्राप्त कर अपने दोस्तों व महिला मित्रों के साथ मौज मस्ती करते थे।

फिलहाल चौबेपुर पुलिस गिरफ्तार अभियुक्तों के खिलाफ आगे की क़ानूनी कार्रवाई कर रही है।
गिरफ़्तारी करने वाली पुलिस टीम में सब इंस्पेक्टर प्रकाश सिंह चौहान, कॉन्स्टेबल आदर्श यादव शामिल रहे।

विज्ञापन