विज्ञापन

वाराणसी। आईआईटी (बीएचयू) अपने वार्षिक सांस्कृतिक उत्सव काशीयात्रा के 38 वें संस्करण की तैयारी ज़ोरो-शोरों से कर रहा है। यह कार्यक्रम17 से 19 जनवरी 2020 तक आयोजित किया जाएगा। यह तीन दिवसीय उत्सव भारत में सबसे बड़े कार्यक्रमों में से एक है। देश के कोने-कोने से छात्र-छात्राएं इस अवसर पर अपने कौशल का प्रदर्शन करने के लिए आते हैं।

विज्ञापन

इस साल काशी यात्रा में 350 से अधिक कॉलेजों के 2000 से अधिक प्रतिभागी भाग लेंगे, जिसमें आईआईटी रुड़की, एम्स दिल्ली, एनएसआईटी, डीटीयू, दिल्ली विश्वविद्यालय और देश भर के कई कॉलेज शामिल हैं।

विज्ञापन

आईआीटी बीएचयू के इस उत्सव में डांस, भारतीय संगीत, वेस्टर्न म्यूजिक, कला, अभिनय, लाइफस्टाइल इवेंट, क्वीज़ कॉंम्पटीशन जैसे कई कार्यक्रम होंगे। प्रतियोगिताओं में निष्पक्षता से फैसले के लिए, प्रसिद्ध हस्तियों और विशेषज्ञों को आमंत्रित किया गया है। इसमें बॉलीवुड अभिनेता राजेश खट्टर, फैशन डिजाइनर अस्मिता मारवा, चीफ मास्टर मेजर चंद्रकांत नायर, विमल चंद्रन, कॉमेडियन रवि गुप्ता शामिल हैं।

विज्ञापन

16 जनवरी शाम में कार्यक्रम का आगाज़ स्पिक मैक से होगा जिसमें प्रसिद्ध कलाकार लालगुड़ी विजयलक्ष्मी, लालगुड़ी जीजेआर कृष्णन और राम वैद्यनाथन अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। 17 जनवरी डीजे नाइट के लिए ऋत्विज, फ्यूजन नाइट के लिए इटली से अनइवेन डीजे और 19 जनवरी को बॉलीवुड नाइट के लिए नामी म्यूजिक डायरेक्टर बॉलीवुड जोड़ी-सलीम-सुलेमान आ रहे हैं। इनके अलावा 14 अंतर्राष्ट्रीय कलाकार भी काशीयात्रा में आ रहे हैं वे कठपुतली शो, वन मैन बैंड, कीबोई शो, गिटार और वोकल्स जैसे शो करेंगे। ये कलाकार स्पेन, डेनमार्क, इटली जैसे देशों के हैं।

विज्ञापन

कार्यक्रम में अंबुजा सीमेंट के निदेशक और सीईओ विमलेन्द्र झा मुख्य अतिथि होंगे और प्रो. प्रमोद कुमार जैन, प्रो.बी.एन. राय, प्रो. के के. सिंह और डॉ. अमरेश कुमार (अध्यक्ष काशीयात्रा) उद्घाटन समारोह में उपस्थित होंगे।

काशीयात्रा ने समाज और पर्यावरण के हित के लिए भी कई कार्य किए हैं। काशीयात्रा ने कैंसर रोगियों और गंगा स्वच्छता की जागरुकता के लिए मैराथन का आयोजन भी किया है। हाल ही में अस्सी घाट पर गंगा सफाई अभियान भी आयोजित किया गया था और छात्राओं के लिए एक आत्मरक्षा शिविर की भी व्यवस्था की है।

विज्ञापन
Loading...