Banaras first Corona patient enters house and beaten ruthlessly seeking justice on social media
विज्ञापन

वाराणसी। जनपद के फूलपुर थानाक्षेत्र के चितौरा ग्राम में वाराणसी ही नहीं पूर्वांचल का पहला कोरोना पॉज़िटिव मरीज़ मिला था। उक्त मरीज़ राजकुमार भरद्वाज दुबई से वाराणसी आया था और कोरोना संक्रमि‍त पाया गया था। कोरोना से जंग जीत चुके इस मरीज़ का आरोप है कि बीते 19 जून को इसके पड़ोसियों ने घर में घुसकर इसकी, इसके पिता और भाई की निर्मम तरीके से पिटाई कर दी। इसके बाद पुलिस ने शिकायत दर्ज करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार तो किया पर दो दिन बाद उसे भी रिहा कर दिया गया।

अब राजकुमार भारद्वाज ने न्‍याय की आस में कुछ वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड कर वाराणसी के आला अधिकारियों से मदद की गुहार लगायी है, फिलहाल ये वीडियो बहुत तेज़ी से वायरल हो रहा है।

सोशल मीडिया पर घटना के दिन का वीडियो डालते हुए पूर्वांचल के पहले कोरोना मरीज़ राजकुमार भरद्वाज ने लिखा है :

राजकुमार भारद्वाज ने अपने पोस्ट में लोगों से अपील की है कि‍ उसकी बात को जि‍ले के डीएम, एसएसपी और सीओ तक पहुंचायी जाए, जि‍ससे उसे न्‍याय मि‍ल सके।

इस सम्बन्ध में जब थाना प्रभारी फूलपुर सनवर अली से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि इस सम्बन्ध में आईपीसी की धारा 325 में मुकदमा दर्ज किया गया। इसमें एक व्यक्ति की गिफ्तारी की गयी थी बाकी दो लोग अभी भी फरार हैं उनकी भी जल्द गिरफ्तारी की जाएगी।

बता दें की 21 मार्च को पूर्वांचल में पहला कोरोना पॉज़िटिव मरीज़ मिला था, जो राजकुमार भरद्वाज था। राजकुमार सऊदी अरब में दुबई और अबुधाबी के बीच संचालित एक क्रूज में रसोइया है। छह मार्च को वह घर से दुबई गया था। दुबई में कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए वह 16 मार्च को अबुधाबी एयरपोर्ट से वाराणसी रवाना हुआ था। 17 मार्च को दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंचा। वहां से 18 मार्च को ट्रेन से घर आया था। खांसी और जुकाम से पीड़ित युवक 19 मार्च को पांडेयपुर स्थित दीनदयाल उपाध्याय जिला अस्पताल में दिखाने के लिए पहुंचा था। उसी दिन डॉक्टरों ने उसका सैम्पल लेकर जांच के लिए बीएचयू स्थित प्रयोगशाला में भेज दिया था। युवक को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था, जहां 14 दि‍न रहने के बाद ठीक होने पर उसे डि‍स्‍चार्ज कर दि‍या गया था।

विज्ञापन