BHU : दस दिन का अल्टीमेटम खत्म, एसवीडीवी में छात्र फिर धरने पर बैठे

विज्ञापन

वाराणसी। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय में मुस्लिम प्रोफ़ेसर की गलत नियुक्ति के विरोध में छात्रों का धरना एक बार फिर शुरू हो गया है। 10 दिन के आश्वासन के बाद धरने को विराम देने वाले छात्रों ने दस दिनों तक आंदोलन चलाया।

उसके बाद आज दस दिन पूरे होने पर संस्कृत विद्या धर्म संकाय के छात्रों ने संकाय में आकर धरना दे रहे हैं और इस नियुक्ति का विरोध कर रहे हैं। फिलहाल धरने की सूचना पर विभाग पहुंचे चीफ प्रॉक्टर संकायध्यक्ष के साथ ताज़ा हालात पर मीटिंग कर रहे हैं।

संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय में छात्रों का आज फिर से विभाग में धरना शुरू, छात्रों द्वारा 10 दिनों का समय बीएचयू प्रशासन को दिया गया था जवाबदेही के लिए परंतु आज तक जवाब ना देने के कारण छात्र विभाग में आकर जमकर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। छात्र बीएचयू प्रशासन से डॉक्टर फिरोज खान के संबंध में जवाब मांग रहे हैं।

छात्रों ने बताया कि विश्वविद्यालय प्रशासन हमारी तीन मांगों को दस दिनों में भी नहीं मांग पाया, जिस वजह से हमें धरना दुबारा से शुरू कर दिया है। हमारा संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय में डॉ फ़िरोज़ खान को पढ़ने को लेकर विरोध नहीं बल्कि विश्वविद्यालय की नियुक्ति प्रक्रिया को लेकर विरोध है। यह नियुक्ति महामना के मूल्यों के विपरीत हुई है।

Loading...