सीएम योगी ने की कार्रवाई, भ्रष्‍टाचार की शिकायत पर हटाये गये कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर के निजी सचिव

विज्ञापन

वाराणसी। भ्रष्टाचार के विरुद्ध हर समय खड़ी भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार और राज्य सरकारें समय-समय पर कडा रुख अपनाती आयी हैं। इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सचिवालय में भ्रष्टाचार की शिकायत मिलने पर कैबिनेट मिनिस्टर अनिल राजभर के निजी सचिव अवनीश कुमार को तत्काल हटाने के निर्देश दिए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार देर शाम अपर मुख्य सचिव, सचिवालय प्रशासन महेश कुमार गुप्ता ने उन्हें हटाने का निर्देश जारी कर दिया है।

पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तिकरण मंत्री अनिल राजभर के यहाँ निजी सचिव श्रेणी-1 अवनीश कुमार को तैनात किया गया था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शासन की ओर से बुधवार को जारी आदेश में कहा गया है कि अवनीश कुमार को तत्काल प्रभाव से कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर के निजी स्टाफ से केंद्रीय अनुभाग के रिज़र्व योगदान के लिए निर्देशित किया जाता है।

इसके अलावा इसी सम्बन्ध में जारी एक अन्य आदेश में कहा गया है कि अवनीश कुमार को भविष्य में किसी भी मंत्री परिषद् के सदस्य सदस्य किसी भी विभाग के प्रभारी अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव या सचिव के साथ तैनात नहीं किया जाए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा भ्रष्टाचार पर किये गए इस फैसले से सचिवालय में हड़कंप मचा हुआ है।

Loading...