रि‍टायर हुईं DLW की पहली महि‍ला जनरल मैनेजर रश्मि गोयल, कर्मचारियों ने दी भावभीनी विदाई

विज्ञापन

वाराणसी। डीजल रेल इंजन कारखाना की प्रथम महिला महाप्रबंधक रश्मि गोयल को उनकी सेवानिवृत्ति के अवसर पर अधिकारियों, कर्मचारियों, कर्मचारी परिषद एवं विभिन्‍न संगठनों द्वारा भावभीनी विदाई दी गई। इस अवसर पर महाप्रबंधक ने न्‍यू लोको टेस्‍ट शॉप में आयोजित एक सादे समारोह में आकर्षक रंग संयोजन एवं पुष्पों से सुसज्जित डीरेका निर्मित 367वें विद्युत रेल इंजन को विधिवत पूजन के साथ हरी झण्डी दिखाकर लोकार्पित किया।

यह 6000 अश्‍व शक्ति डब्‍ल्‍यू.ए.पी.7 विद्युत रेल इंजन संख्‍या 30310 प्रथम अत्‍याधुनिक संशोधित कैब और सीट व्‍यवस्‍था (Modified Cab and Seat arrangement) से युक्‍त है, जो लोको पायलटों के फीडबैक के आधार पर ड्राइवर केबिन और सीट को इस प्रकार उन्‍नत किया गया है कि लोको पायलट की समस्‍याओं का निराकरण कर ज्‍यादा बेहतर और अधिक आरामदायक व सुरक्षित संचालन की सुविधा उपलब्‍ध कराई जा सके। इसके लिए निम्‍न परिवर्तन किये गये हैं-

• लोको कैब के ड्राइवर डेस्‍क को नीचे किया गया है, इससे लुक आउट ग्‍लास के द्वारा बाहर की दृश्‍यता भी बड़ गई है।
• नई आधुनिक एवं आरामदायक सीट की भी व्‍यवस्‍था की गई है। ड्राइवर इस सीट को सुविधानुसार आगे पीछे कर सकते है।
• लोको पायलट बैठे-बैठे सीट को किसी भी दिशा में घुमा सकते है।
• सर को टिकाने और गर्दन को आराम देने के लिए हेड सपोर्ट लगाया गया है।
• दोनों हाथों को रखने और कंधे को आराम देने के लिए Arm Support लगाया गया है।
• पीठ को आराम देने के लिए इस सीट को आवश्‍यकतानुसार पीछे की तरफ झुकाने की व्‍यवस्‍था है।
इस रेल इंजन को दक्षिण रेलवे के इरोड (Erode) विद्युत लोको शेड भेजा जा रहा है। इस अवसर पर महाप्रबंधक द्वारा कारखाना के समस्‍त शॉपों का भ्रमण भी किया गया, जहां पर अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा उनका पुष्‍पगुच्‍छ, माल्‍यार्पण एवं पुष्‍प वर्षा के साथ स्‍वागत किया गया। समारोह में अपने सम्‍बोधन में महाप्रबंधक द्वारा कर्मचारियों एवं अधिकारियों को उनके कार्यकाल के दौरान उत्‍कृष्‍ट प्रदर्शन एवं सहयोग के लिए बधाई एवं धन्‍यवाद दिया है।

इस अवसर पर प्रमुख मुख्‍य विद्युत इंजीनियर ने महाप्रबंधक के कार्यकाल के दौरान की उत्पादन गतिविधियों एवं उपलब्धियों पर प्रकाश डाला। इसके पूर्व उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों का स्वागत करते मुख्य विद्युत इंजीनियर/लोको ने लोकार्पित रेल इंजन के खूबियों के बारे में उपस्थित लोगों को अवगत कराया। इसके पूर्व महाप्रबंधक श्रीमती गोयल अपने परिजनों एवं अन्‍य विभागाध्‍यक्षों के साथ न्‍यू पेंट शॉप प्रांगण में वृक्षारोपण भी किया।

उल्‍लेखनीय हैं कि रश्मि गोयल के दो वर्ष दो माह के कार्यकाल के दौरान डीरेका का चहमुखी विकास हुआ है। डीरेका ने विद्युत रेल इंजनों के उत्‍पादन में उत्‍तरोत्‍तर वृद्धि के अतिरिक्‍त विश्‍व में प्रथम बार 2600 अश्‍व शक्ति के दो डीजल रेल इंजनों को युग्मित कर 10000 अश्‍व शक्ति के विद्युत ट्रैक्‍शन रेल इंजन में बदलकर नया कीर्तिमान स्‍थापित किया। इस रेल इंजन को इसी वर्ष दिनांक 19 फरवरी को माननीय प्रधानमंत्री, भारत सरकार द्वारा हरी झंडी दिखाकर राष्‍ट्र को समर्पित किया गया।

इसके अतिरिक्‍त ओपेन एक्‍सेस के तहत सामान्‍य विद्युतीय सेवाओं हेतु 132 किलोवाट पर विद्युत सप्‍लाई प्राप्‍त की जा रही है। यह व्‍यवस्‍था इसी वर्ष दिनांक 15 मई से लागू की गई है। डीरेका द्वारा ओपेन एक्‍सेस के तहत विद्युत उर्जा की खरीद करने के कारण प्रति माह लगभग ₹ 47 लाख की बचत हो रही है। इसके अतिरिक्‍त विपणन, ऊर्जा संरक्षण, वर्ष जल संचयन, आपदा प्रबंधन, पर्यावरण संरक्षण, सुरक्षा एवं संरक्षा प्रबंधन इत्‍यादि क्षेत्र में भी डीरेका ने उल्‍लेखनीय सफलताएं अर्जित कर अंतरार्ष्‍ट्रीय पटल पर अपना ध्‍यान आकृष्‍ट किया है।

भारतीय रेल लेखा सेवा (IRAS) के वर्ष 1982 बैच के अधिकारी रश्मि गोयल ने वर्ष 1983 में भारतीय रेलवे में सेवा प्रारम्भ की। तब से अब तक के अपने उत्‍कृष्‍ट कैरियर के दौरान लगभग 36 वर्षों के अन्तराल में उन्होंने भारतीय रेल में विभिन्न महत्वपूर्ण पदों पर कार्य किया है। डीरेका आने से पूर्व आप उत्‍तर रेलवे नई दिल्‍ली में प्रमुख वित्‍त सलाहकार (Principal Financial Advisor) के पद पर कार्यरत रहीं है।

इस अवसर पर रश्मि गोयल के कार्यालय से प्रस्‍थान के अवसर पर रेलवे सुरक्षा बल, नागरिक सुरक्षा संगठन, सेंट जॉन्‍स एम्‍बूलेंस ब्रिगेड तथा डीरेका भारत स्‍काउट्स एवं गाइड्स द्वारा उन्‍हें शानदार गार्ड ऑफ ऑनर तथा मार्च पास्‍ट प्रस्‍तुत किया गया एवं सलामी दी गयी। सेवानिवृत्ति के अवसर पर विभिन्‍न संगठनों जैसे खेलकूद संघ, अधिकारी संघ, कर्मचारी परिषद, भारतीय रेल लेखा सेवा के अधिकारियों, डीरेका क्‍लब एवं अन्‍य संगठनों द्वारा उन्‍हें भावभीनी विदाई दी गई। महाप्रबंधक रश्मि गोयल के अतिरिक्‍त डीरेका के 12 पर्यवेक्षक एवं कर्मचारी भी आज सेवानिवृत्‍त हुए हैं।

Loading...