फाइल फोटो
विज्ञापन

वाराणसी। वाराणसी डीआरएम ऑफिस में रविवार को विद्युत कर्मचारी की करंट लगने से मौत हो गई। पूर्वोत्तर रेलवे के डीआरएम ऑफिस में कार्यरत पुरेंद्र सिंह रविवार को सुबह मेनटेनेंस के काम कर रहे थें के अचानक तेज करेंट लगेने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई। आनन-फानन में साथियों ने उन्हें रेलवे अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मौके पर रेलवे के आलाधिकारी भी पहुंचे और घटना की जांच के साथ परिवार को हर संभव मदद का आश्वसन दिया।

विद्युत कर्मचारी विद्या भूषण तिवारी के अऩुसार पुरेंद्र अपने टीम के साथ विद्युत पैनल में केबल बदलने का कार्य कर रहे थें। उन्होंने बताया पैनल में तीन लाइन चलता है पहला एमरजेंसी लाइन दूसरा कॉमर्शियल लाइन और तीसरा डोमेस्टिक लाइन। जिस पैनल पर काम होता है वहां की इलेक्ट्रिसिटी काट दी जाती है। पुरेंद्र विद्युत खलासी के पद पर कार्यरत थें, हो सकता है कार्य के वक्त कोई विद्युत चालू होगा, जिससे उन्हें करेंट लगा होगा।

पुरेंद्र सिंह थाना कोचा सासाराम के मुख्य निवासी थें। उनके परिवार में उनकी पत्नी और एक साल से कम का बच्चा है। रेलवे प्रशासन ने मृत सुरेंद्र के परिवार के एक सदस्य को जल्द से जल्द उनकी योग्यता के अनुसार रेलवे में नौकरी देने की बात कही है ताकि परिवार बेसहारा न रहे औऱ आर्थिक रुप से भी परिवार की हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया है।

मौके पर पहुंचे पीवी पंजियार, डीआरएम ने कहा कि ऑन ड्यूटी उनकी मौत हुई है, इसलिए पुरेंद्र के परिवार को पूरी पेंशन, उनकी प्रोविडेंड फण्ड और अन्य सभी संभव मदद की जाएगी। यह हादसा पूरे रेलवे के लिए दुखद है।

विज्ञापन