मंडुआडीह-कैंट रेल मार्ग पर बेपटरी हुए एक्स्ट्रा वैगन, कारण तलाशने में लगे अधिकारी

वाराणसी। शहर के मंडुआडीह स्टेशन से कैंट स्टेशन यार्ड की तरफ लाये जा रहे एक्स्ट्रा वैगन लहरतारा फ्लाईओवर के ठीक निचे बेपटरी हो गए। इस सूचना पर रेल अधिकारियों में हड़कंप मच गया। वाराणसी-इलाहाबाद मार्ग पर गाड़ियों के ब्रेक लग गए। वहीं इस घटना में खाली वैगन की वजह से किसी के घायल होने की सूचना नहीं है। वहीं मौके पर पहुंचे अधिकारियों का रवैया रेलवे की लापरवाही की तरफ ध्यान खींच रहा है।

पूरी दुनिया में भारतीय रेल तेजस और वंदेभारत की तरफ बढ़ चला है ऐसे में प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में हुआ एक हादसा रेलवे की पुरानी पटरियों की सच्चाई को उजागर कर गया। सोमवार की सुबह मंडुआडीह स्टेशन से एक इंजन से अटैच एक्स्ट्रा 6 बोगियां कैंट स्टेशन के समीप स्थित यार्ड में भेजी जा रही थी। उसी समय मंडुआडीह स्टेशन से कुछ दूरी पर स्थित लहरतारा आरओबी के ठीक नीचे इस इंजन से अटैच चार बोगियां पटरी से उतर गयी।

ड्राइवर ने इमरजेंसी ब्रेक मारकर गाड़ी को रोका और आला अधिकारियों को इसकी सूचना दी। इस डिरेल से वाराणसी-इलाहाबाद मार्ग पर ट्रेन का परिचालन रुक गया। आठ बजे की घटना की सूचना के बाद करीब तीन घंटे बाद ट्रेन को पटरी पर लाने का कार्य शुरू तो हुआ पर ज़िम्मेदार अधिकारी घटना की वजह बताने से कतराते रहे।

मौके पर पहुंचे रेलवे के अधिकारी से जब इस सम्बन्ध में बात करनी चाही गयी तो वो कतराते रहे। या ट्रैन उसी ट्रैक पर डीरेल हुई जिसपर कुछ दिन पहले वन्दे भारत एक्सप्रेस भी दौड़ाई गयी थी।

Loading...