विज्ञापन

वाराणसी। जिला प्रशासन के अनुरोध पर पूर्वोत्तर रेलवे द्वारा गुरुवार को वाराणसी मंडल के अंतर्गत बिहार के गोपालगंज जिले में पड़ने वाले जलालपुर रेलवे स्टेशन से चार श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का परिचालन किया गया। पहली श्रमिक स्पेशल ट्रेन जलालपुर स्टेशन से सुपौल के लिए सुबह 9.25 बजे चलाई गई। दूसरी श्रमिक स्पेशल ट्रेन आज 21 मई को जलालपुर स्टेशन से सुपौल के लिए 11.55 बजे चलाई गई।

वहीं तीसरी श्रमिक स्पेशल ट्रेन सं 05126 जलालपुर स्टेशन से अररिया के लिए 13.15 बजे चलाई गई और चौथी ट्रेन जलालपुर स्टेशन से कटिहार के लिए 15.05 बजे चलाई गई। इन सभी गाड़ियों की क्षमता 1220 यात्रियों के लिए 21 कोचों (शयनयान श्रेणी के 9 कोच, सामान्य श्रेणी के 10 कोच एवं 2 कोच एसएलआर) में उपलब्ध हैं।

गाड़ियों को जिला प्रशासन के सहयोग से सभी कोविड-19 प्रोटोकाल का अनुपालन सुनिश्चित करते हुए क्रमशः 05132 गाड़ी में 295 यात्री, 05128 गाड़ी में 627 यात्री 05126 गाड़ी में 340 यात्री एवं 05144 गाड़ी में 316 यात्रियों समेत कुल 1,570 यात्रियों को आज जलालपुर से अपने गंतव्य के लिए रवाना किया गया। श्रमिक स्पेशल ट्रेन के सभी यात्रियों को यात्रा के दौरान सुविधा हेतु 1 लीटर पानी की बोतल और 1 पैकेट वेज बिरयानी उपलब्ध कराया गया।

श्रमिक स्पेशल सभी ट्रेनों में कोविड-19 के सभी प्रोटोकाल जिला प्रशासन से पूर्ण करा कर पूरी तरह से सेनिटाईजेशन के बाद जलालपुर स्टेशन में प्रवेश दिया गया। सभी श्रमिक यात्रियों की लिस्ट जिला प्रशासन द्वारा तैयार की गई थी और सभी श्रमिक यात्रियों को जिला प्रशासन द्वारा जलालपुर स्टेशन लाया गया था। सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग करने, मास्क पहनने के बाद समाजिक दूरी का पालन सुनिश्चित करते हुए स्पेशल ट्रेन में बैठाया गया।

श्रमिकों को कतारबद्ध करने जाँच एवं अन्य प्रबंधन हेतु रेलवे सुरक्षा बल के 15, राजकीय रेलवे पुलिस ( जीआरपी) के 23 तथा राज्य पुलिस के 35 जवान मुस्तैदी से तैनात किये गए थे। श्रमिक स्पेशल के समुचित प्रबंधन हेतु राज्य सरकार के प्रतिनिधि के रूप में उप प्रभागीय जिलाधिकारी, जिला ट्रांसपोर्ट अधिकारी /गोपालगंज तथा पूर्वोत्तर रेलवे से मुख्य वाणिज्य निरीक्षक/छपरा, मुख्य वाणिज्य निरीक्षक/सीवान, प्रभारी रेलवे सुरक्षा बल/सीवान एवं थावे,यातायात निरीक्षक/पडरौना,सीनियर सेक्शन इंजीनियर/पी वे/पावर/टेलीकॉम, वाणिज्यिक विभाग के 16 कर्मचारी, टेलीकाम विभाग के 1 कर्मचारी, विद्युत विभाग के 6 कर्मचारी तथा कैरेज विभाग के 4 कर्मचारियों को तैनात किया गया था।

विज्ञापन