काशी के हिन्दू और मुसलामानों ने मिलकर जलाया मोहब्बत का दीपक

वाराणसी। दीपों के त्यौहार दीपावली पर भले ही लाखों दीप जले हों, लेकिन काशी के हिन्दू और मुसलमानों ने मिलकर ‘सुभाष भवन’ में मोहब्बत का दीपक जलाया और नफरत के अंधकार को ख़त्म करने के लिए दीपावली के बहाने एकजुट हो गए। विशाल भारत संस्थान द्वारा सुभाष भवन इन्द्रेश नगर में आयोजित दीपोत्सव कार्यक्रम में सब ने मिलकर दीप जलाया और फुलझड़ी जलाकर एक दूसरे दीपावली की बधाई दी।

विज्ञापन

इस आयोजन में हिन्दू-मुस्लिम भाइयों ने एक साथ दीपक जलाया और एक दुसरे का मुहं मीठा कराया और गले लगाकर दीपावली की बधाई दी। इस दौरान यह संकल्प भी लिया कि हम धर्म के नाम पर न लड़ेंगे, न किसी को लड़ने देंगे और दिलों से नफरत दूर करके रहेंगे

घनघोर अंधकार के बीच जिस तरह एक टिमटिमाता हुआ दिया उम्मीद जग देता है, उसी तरह नफरतों के बीच भी चंद लोगों का यह प्रयास भाईचारगी की ऐसी मिशाल पेश कर गया जो युगों तक याद रखा जाएगा।

दीपोत्सव कार्यक्रम में विशाल भारत संस्थान के अध्यक्ष डॉ राजीव श्रीवास्तव, मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के पूर्वांचल प्रभारी मोहम्मद अज़हरुद्दीन, महानगर अध्यक्ष अफसर बाबा, अब्दुल मजीद अंसारी, अब्दुल कलाम आदि लोग मौजूद रहे ।

Loading...