अगर आप को आना है कैंट स्टेशन तो पढ़िए ये खबर, वरना छूट सकती है ट्रेन

विज्ञापन

वाराणसी। निर्माणाधीन लहरतारा-चौकाघाट फ्लाईओवर को चौकाघाट-कैंट रोडवेज फ्लाईओवर से जोड़ने के लिए इस समय पुराने सेतु चौकाघाट-कैंट रोडवेज के पिलर नंबर 35 से 38 के पिलर कैप कर डेक स्लैब को तोड़े जाने का कार्य बीती रात से शुरू हो गया। इस कारण से चौकघाट लकड़ी मंडी से कैंट रोडवेज जाने वाले फ्लाईओवर और अंधरापुल चौराहे से कैंट स्टेशन जाने रास्ते पर सेतु निगम द्वारा 10 दिनों के लिए बंद करते हुए रुट डायवर्जन लिया गया है। इस सड़क पर सुरक्षा की दृष्टि से यातायात विभाग ने 19 नवम्बर से 29 नवम्बर तक डायवर्जन कर दिया है। इससे आम जन मानस की समस्याएं बढ़ सकती है।

ऐसे में यातयात विभाग द्वारा जारी रुट डायवर्जन को पढ़कर ही घर से गंतव्य को निकलें। यातयात विभाग के अनुसार –

1.गोलगड्डा की तरफ से आने वाले किसी भी वाहन को चैकाघाट-रोडवेज बस स्टैण्ड उपरिगामी सेतु के उपर से नहीं जाने दिया जायेगा, बल्कि जिन वाहनों को रोडवेज बस स्टैण्ड/कैण्ट स्टेशन की तरफ जाना है, उन सभी वाहनों को राजकीय आयुर्वेदिक कालेज से अमर उजाला तिराहे की तरफ डायवर्ट कर दिया गया है। यहां से वाहन तेलियाबाग, चैकाघाट, अंधरापुल, मरीमाई, मलदहिया, साजन तिराहा, इंग्लिशिया लाइन होकर अपने गन्तव्य की तरफ जा सकेंगे।

2.लहुराबीर की तरफ से आने वाले समस्त वाहन जिन्हें मरीमाई की तरफ जाना है, उन वाहनों को चैकाघाट की तरफ डायवर्ट कर दिया गया है, जो चैकाघाट, अंधरापुल, होकर डायवर्जन रूट से अथवा नदेसर होकर अपने गन्तव्य की तरफ जा रहे हैं।

3.अंधरापुल से सभी वाहन जिन्हें रोडवेज बस स्टैण्ट/कैण्ट रेलवे स्टेशन की तरफ जाना है, उन सभी वाहनों को मरीमाई की तरफ डायवर्ट कर दिया गया है, जहां से वह वाहन मलदहिया, साजन तिराहा, इंग्लिशिया लाइन होते हुए अपने गन्तव्य को जा रहे हैं।

4.लहरतारा, मालगोदाम की तरफ से आने वाले बड़े वाहन (बस आदि वाहन), जिन्हें अंधरापुल की तरफ जाना है, यह सभी वाहन धर्मशाला से इंग्लिशिया लाइन, मलदहिया, मरीमाई, अंधरापुल होते हुए अपने गन्तव्य को जा रहे हैं।

5.लहरतारा, मालगोदाम की तरफ से आने वाले छोटे चार पहिया/तीन पहिया वाहन अंधरापुल की तरफ सर्विस लेन से जा रहे हैं।

6.रोडवेज बस स्टैण्ड की बसों को जिन्हें अंधरापुल की तरफ जाना है, वह बसें लक्ष्मी हास्पिटल/रोडवेज पुलिस चैकी की गली से पंचवटी मंदिर होते हुए लोहा मण्डी से बांये मुड़कर मरीमाई होते हुए अंधरापुल से अपने गन्तव्य को जा रही हैं।

 

Loading...