विज्ञापन

वाराएसी। आईआईटी (बीएचयू) का वार्षिक सांस्कृतिक महोत्सव काशीयात्रा का पहला दिन बहुत ही धमाकेदार रहा। देश के कोने-कोने से आये छात्र -छात्राओं ने अलग-अलग प्रतियोगिताओं में अपने हुनर का प्रदर्शन किया।

विज्ञापन

नुक्कड़ा नाटक के जरिए समाज की कुरीतियों पर किया प्रहार
कार्यक्रम की शुरुआत नुक्कड़ नाटक से हुई जिसमें छात्राओं ने समसमायिक विषयों को चुना और वर्तमान में लड़कियों पर हो रहे अत्याचार से रुबरु कराया। प्रतिभागियों ने अंध विश्वास, दूसरों का मजाक उड़ाना जैसे कई विषयों पर नाट्य किया। इसकी जज असीमा भट्ट रही।

विज्ञापन

शताब्दी कृषि भवन में सोलो इंस्ट्रूमेंटल इवेंट ‘संलयन’ का प्रीलिम्स हुआ। जिसमे सभी कलाकारों ने अपने-अपने इंस्ट्रूमेंट से अपना हुनर दिखाया। इस इवेंट को जज करने के लिए शशांक दीक्षित और रोब्बी जोसफ वहां उपस्थित थे।

विज्ञापन

मिस्टर और मिस काशीयात्रा मॉडलिंग में दिखा ट्रेंडी फैशन का जलवा
आईआईटी जिम खाना में मिस्टर व मिस काशीयात्रा का आयोजन हुआ जिसमें सभी प्रतिभागियों ने अपने मॉडलिंग का जलवा दिखाया। लाइफस्टाइल इवेंट मिराज के फाइनल राउंड में प्रतिभागियों ने अपने आकर्षक डिजाइन और मॉडल का प्रदर्शन किया। जिसकी जज पंखुड़ी गिडवानी और एश्‍वर्या शर्मा रहीं।

विज्ञापन

ऋितविज डीजे के धुन ने लोगों को जमकर नचाया
शाम होते ही युवाओं की भीड़ द लोकल ट्रेन बैंड और ऋतविज डीजे का शो देखने के लिए आईआईटी के एडीवी ग्राउंड में जुटने लगी। ऋितविज डीजे का जादू लोगों के सर चढ़ कर बोल रहा था। अपनी पॉवर पैक पर्फामेंस और सुपरहिट गानों से लोगों को दीवाना बना दिया। ऋितविज ने फिर वही दांस्तां, न सोना न चाँदी, तुझको दिल दिया, हम तो उड़ गए जैसे गाने सुनाएं। डीजे की धुन और लाईटिंग के बीच गाने का लोगों ने जमकर मज़ा लिया।

काशीयात्रा में और भी कई कार्यक्रम हुए जिसमें मोटर साइकिल स्टंट, साबुन पर आकृतियां, टी शर्ट पर पेंटिंग, कार्टून और मॉर्डन आर्ट आदि भी शामिल रहा।

देखें तस्वीरें

विज्ञापन