तीन तलाक पीड़िताओं की मदद के लिए वाराणसी में खुला ‘इन्द्रेश कुंज’

विशाल भारत संस्थान द्वारा इन्द्रेश कुंज का शुभारम्भ
इन्द्रेश कुंज में होगा अनाज बैंक का विस्तार पटल
तीन तलाक पीड़ितों की मदद के लिये रोजगार प्रशिक्षण केन्द्र

वाराणसी। मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक जैसी सामाजिक कुप्रथा से मुक्ति दिलाने में बड़ी भूमिका निभाने वाले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के केन्द्रीय नेता इन्द्रेश कुमार के नाम पर मैदागिन स्थित ‘इन्द्रेश कुंज’ अब तीन तलाक पीड़ितों की मदद का केन्द्र बनेगा।

विज्ञापन

विशाल भारत संस्थान द्वारा संचालित इन्द्रेश कुंज का उद्घाटन समाजसेवी गौरव मिश्रा ने फीता काटकर किया। इन्द्रेश कुंज के उद्घाटन के अवसर अखण्ड रामायण का पाठ का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पातालपुरी मठ के पीठाधीश्वर महंत बालक दास ने किया।

इस अवसर पर विशाल भारत संस्थान की महासचिव अर्चना भारतवंशी ने बताया कि इन्द्रेश कुंज में तीन तलाक पीड़ित मुस्लिम महिलाओं की मदद के लिए अनाज बैंक ने अपना विस्तार पटल स्थापित किया है ताकि शहर में रहने वाली तीन तलाक पीड़ित महिलाएं अपने भरण-पोषण के लिए अनाज प्राप्त कर सकें।

अनाज बैंक तलाक पीड़ित महिलाओं के लिए ही यह विस्तार पटल शुरू किया है। अनाज बैंक के विस्तार पटल में निकासी खाता खोलने की शुरूआत 13 अक्टूबर से होगी। इन्द्रेश कुंज में तीन तलाक पीड़ित महिलाओं के लिए रोजगार प्रशिक्षण केन्द्र भी बनाया गया है। जहां सिलाई-कटाई से लेकर कम्प्यूटर तक का प्रशिक्षण दिया जायेगा।

इसके अलावा इन्द्रेश कुंज में परिवार सुलह केन्द्र भी स्थापित हुआ है, ताकि भविष्य में तलाक की घटनाओं को रोका जा सके और परिवार को टूटने से बचाया जा सके।

वही मुख्य अतिथि गौरव मिश्रा ने कहा कि ‘तीन तलाक ने मुस्लिम महिलाओं की जिंदगी को नरक बना दिया था। सरकार ने तीन तलाक खत्म कर दिया है लेकिन तलाक पीड़ित महिलाओं की मदद के लिए समाज को भी अपनी बड़ी भूमिका निभानी होगी, क्योंकि तलाक पीड़ित महिलाओं के साथ उनके बच्चे भी इस कुप्रथा का दंश झेल रहे है।

विशाल भारत संस्थान के अध्यक्ष डॉ राजीव श्रीवास्तव ने कहा कि ‘तलाक पीड़ित महिलाएं समाज के लिए बोझ नहीं है। उन्हें प्रशिक्षित कर उनके पैर पर खड़ा करने का सबसे बड़ा गैर सरकारी प्रयास इन्द्रेश कुंज के माध्यम से होगा। अब तलाक पीड़ित महिलाओं को दो वक्त की रोटी के लिए दर-दर भटकना नहीं पड़ेगा। अनाज बैंक विस्तार पटल, मैदागिन में खाता खोलकर उन्हें हर हफ्ते अनाज की सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी।

इस कार्यक्रम में नजमा परवीन, डॉ मृदुला जायसवाल, राकेश श्रीवास्तव, अंजु श्रीवास्तव, धनंजय यादव, शिवेन्द्र सिंह, इली, खुशी, उजाला, शालिनी, दक्षिता, डॉ निरंजन श्रीवास्तव, अशोक सहगल, मौहम्मद इद्रीश, नेसार अली, फहीम अहमद, शमीम अहमद, मंजुरूल हक, महताब अंसारी, मौहम्मद अहमद, मौहम्मद इब्राहिम आदि लोगों ने भाग लिया।

 

Loading...