Killing of cousin with sticks in ground dispute, tension in the area
विज्ञापन

वाराणसी। मंगलवार की शाम फूलपुर थाना अंतर्गत बरवां गाँव में ज़मीनी विवाद में एक अधेड़ की उसके चचेरे भाई ने लाठी से पीटकर हत्या कर दी। इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फ़ैल गयी। देर रात ग्रामीणों ने थाने में शव रखकर हंगामा किया। ग्रामीणों का आरोप है कि साल भर पहले भी मनबढ़ ने मृतक पर हमला किया था पर पुलिस ने राजनितिक दबाव में कुछ भी नहीं किया जिसकी वजह से आज यह घटना घटी।

फिलहाल पुलिस ने कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और गाँव में एहतियातन भारी पुलिस फ़ोर्स तैनात कर दी गयी है।

घटना के सम्बन्ध में ग्रामीणों ने बताया कि तीन पट्टीदारों में पैतृक संपत्ति को लेकर वर्षों से विवाद चल रहा था। पूर्व में भी झगड़ा-लड़ाई हो चुकी थी। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि सुबह महेंद्र मिश्रा और उनके पट्टीदार चक्की संचालक अनिल मिश्रा के बच्चों में विवाद हुआ था। उसके बाद शाम में लगभग 7 बजे महेंद्र मिश्रा अपने पट्टीदार चचेरे भाई अनिल मिश्रा की आता चक्की पर पहुँच गए और अनिल के सर पर लाठी से कई वार कर उन्हें लहूलुहान हालत में छोड़ वहां से फरार हो गए।

घायलावस्था में परिवार के लोग उन्हें हरहुआ स्थित एक निजी अस्पताल लेकर पहुंचे जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इस बात की जानकारी होते ही ग्रामीण आक्रोशित हो और रात में ही शव को थाने लेकर पहुंचे और हंगामा करने लगे। परिजनों ने बताया कि एक वर्ष पहले भी महेंद्र ने अनिल को चक्की पर घुसकर मारा था और उसका हाथ तोड़ दिया था। इस सम्बन्ध में थाना फूलपुर में आईपीसी की धारा 325 व 308 में मुकदमा भी दर्ज हुआ था लेकिन कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं हुई, जिसका परिणाम यह हुआ कि मनबढ़ महेंद्र ने आज अनिल की ह्त्या कर दी।

विज्ञापन