विज्ञापन

वाराणसी। महाशिवरात्रि पर श्रद्धालुओं के लिए शुरु होने वाली महाकाल एक्सप्रेस को रवि‍वार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हरी झण्डी दिखाने वाले हैं। यह ट्रेन यात्रियों को अपने आप में एक अनूठा अनुभव देने वाली है। काशी महाकाल एक्सप्रेस न केवल तीन ज्योतिर्लिंगों को एक दूसरे से जोड़ेगी बल्कि वाराणसी को व्यवसायिक क्षेत्रों से भी जोड़ने का काम करेगी।

विज्ञापन

प्रधानमंत्री द्वारा शुरु किया गया एक भारत श्रेष्ठ भारत के अंतर्गत यह ट्रेन न केवल श्रद्धालुओं के लिए एक तीर्थ को दूसरे तीर्थ स्थल से जोड़ेगी। इसके साथ ही यह ट्रेन व्यवसायिक दृष्टिकोण से उन व्यापारियों के लिए भी लाभकारी होगा जो भोपाल, इंदौर और उज्जैन अपने व्यवसाय के लिए आते-जाते रहते हैं।

विज्ञापन

इसके अलावा महाकाल एक्सप्रेस में यात्रियों को विशेष टूर पैकेज भी उपल्बध कराया जाएगा। यह टूर पैकेजेस 6000 रुपये से शुरु होकर 14770 रुपये तक होंगे। इसमें श्रद्धालुओं के लिए पांच तरह के तीर्थ टूर शामिल होंगे।

विज्ञापन

काशी दर्शन 1
इसका आरंभ दिवस शनिवार से होगा जो एक रात दो दिन का होगा। इसमें यात्रियों को वाराणसी के घाट, काशी विश्वनाथ मंदिर के दर्शन, संकटमोचन मंदिर दर्शन और दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती के दर्शन की सुविधा दी जाएगी। इस पैकेज की कीमत प्रति व्यक्ति 6010 रुपये होगी, जिसमे यात्रियों को खाना-पीना भी उपलब्ध कराया जाएगा।

विज्ञापन

काशी दर्शन 2
इसका आरंभ मंगलवार को होगा जो दो रात तीन दिनों का होगा यह पैकेज काशी दर्शन एक की तरह ही होगा लेकिन इसमें यात्रियों को सारनाथ पुरातत्व व सारनाथ बौद्ध मंदिर के भी दर्शन कराए जाएंगे। इस पैकेज की कीमत प्रति व्यक्ति 8110 रुपये होगी।

काशी-प्रयाग दर्शन
इस पैकेज में यात्री काशी व प्रयागराज दर्शन कर सकेगा। इसका आरंभ दिवस मंगलवार को होगा जो दो रात तीन दिनों का होगा। इसमें श्रद्धालुओं व यात्रियों को काशी विश्वनाथ मंदिर, संकट मोचन मंदिर, वाराणसी के घाट और दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती देखने को मिलेगा। इसके बाद श्रद्धालुओं को प्रयागराज में संगम और हनुमान मंदिर के दर्शन भी कराये जाएंगे। इसके लिए यात्री को प्रति व्यक्ति 10050 रुपये देने होंगे।

काशी-प्रयाग-अयोध्या दर्शन
इस पैकेज में यात्री काशी-प्रयागराज के साथ अयोध्या तीर्थस्थलों का भी दर्शन कराया जाएगा, जिसमें काशी विश्वनाथ मंदिर, संकट मोचन मंदिर, वाराणसी के घाट और दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती, सारनाथ फिर प्रयागराज में संगम और हनुमान मंदिर के दर्शन। इसके बाद श्रृंगवेरपुर, अयोध्या में श्रीराम मंदिर और हनुमान गढ़ी के दर्शन कराए जाएंगे। इस लिए आईआरसीटीसी ने प्रतिव्यक्ति 14770 रुपये तय किया है।

काशी-अयोध्या-प्रयाग दर्शन
इस पैकेज में काशी के बाद यात्री को अयोध्या के तीर्थ स्थलों का दर्शन को जाएंगे। इसके बाद यात्रियों को प्रयाग के तीर्थ स्थलों के दर्शन कराया जाएगा। इसमें काशी विश्वनाथ मंदिर, संकट मोचन मंदिर, वाराणसी के घाट और दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती, सारनाथ, श्रृंगवेरपुर, अयोध्या में श्रीराम मंदिर और हनुमान गढ़ी के दर्शन के बाद प्रयाग में संगम व हनुमान मंदिर का दर्शन कराया जाएगा। इसकी कीमत प्रतिव्यक्ति 14770 रुपये होगी।

आईआरसीटीसी के इन टूर पैकेजेस में तीर्थ स्थलों के भ्रमण के साथ एसी होटल में रात्रि विश्राम। इसके साथ ही दिन में नाश्ता व रात में भोजन और एसी गाड़ियों द्वारा तीर्थ स्थलों के भ्रमण जीएसटी सहित शामिल हैं।

इसके अलावा आईआरसीटीसी ने भोपाल और उज्जैन के तीर्थ स्थलों का अलग पैकेज तैयार किया है। काशी महाकाल एक्स्प्रेस में वाराणसी जंकशन से इंदौर के लिए 1951 रुपये फेयर प्राइस रखा गया है। वाराणसी जंकशन से उज्जैन के लिए 1803 रुपये तय किया गया है और वाराणसी से लखनऊ के लिए 500 रुपये रखा गया है।

महाकाल में सफर करने वालों को यह भी जानना है जरुरी-
रेलवे रिजर्वेशन काउंटर पर टिकट की बुकिंग नहीं होगी। इस ट्रेन में तत्काल रिजर्वेशन की सुविधा नहीं होगी। महाकाल एक्सप्रेस में वरिष्ठ नागरिक या किसी भी श्रेणी को टिकट शुल्क में कोई रियायत नहीं मिलेगी। महाकाल का किराया फिक्स्ड नहीं होगा। यह डायनमिक किराया पद्दति पर चलेगा जो व्यस्थ सीजन में बढ़ता-घटता रहेगा।

विज्ञापन
Loading...