Mahant family will do Baba Srikashi Vishwanath's Tilakotsav, tradition will not break
फाइल इमेज
विज्ञापन

वाराणसी। वसंत पंचमी को बाबा श्रीकाशी विश्वनाथ के तिलकोत्सव की रस्म परम्परा अनुसार निर्वहन की जाएगी। महंत आवास के गिरने के बाद इसपर संशय के बादल छा गए थे, जिसे आज महंत डॉ कुलपति तिवारी ने हटा दिया है। उन्‍होंने बताया कि 400 वर्ष पुरानी इस परम्परा का निर्वहन महंत परिवार करता आ रहा है और आगे भी करता रहेगा।

विज्ञापन

बाबा का तिलकोत्सव कहां होना है, फि‍लहाल यह अभी सुनिश्चित नहीं हुआ है।

विज्ञापन

विज्ञापन

महंत डॉ कुलपति तिवारी के अनुसार, ‘यह हमारा अधिकार है और इस आयोजन को करने के लिए हम पूर्ण रूप से स्वतंत्र हैं। बसंत पंचमी के दिन बाबा श्रीकाशी वि‍श्‍वनाथ का तिलकोत्सव होगा, जिसकी तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं।’

विज्ञापन

महंत के अनुसार, ‘मन्दिर परिसर में रखी बाबा की रजत प्रतिमा को हम लाकर तिलकोत्सव करेंगे। यह जैसे होता था वैसे ही होगा। बस कहां होना है ये हम परिवार व आयोजकों संग बैठक करके निर्णय करेंगे। हम किसी के दबाव में आकर कोई कार्य नही करेंगे।’

महंत डॉ कुलपति तिवारी ने ये भी कहा, ‘हमारी ही नही पूरी काशीवासी की इस परम्परा से भावनाएं जुड़ी हैं। किसी की भावनाओ को आहत नही होने दिया जाएगा। काशी के विद्वान सहित पूरी जनता हमारे साथ है।’

विज्ञापन
Loading...