विज्ञापन

वाराणसी। बीते दिनों श्रमिक स्पेशल गाड़ियों द्वारा देश के विभिन्न हिस्सों से श्रमिकों का बड़ी संख्या में पूर्वान्चल में आगमन हुआ है, जिसमें पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल का अहम योगदान रहा है।

पूर्वान्चल में बड़ी संख्या में आये इन श्रमिकों को राज्य सरकारों द्वारा उनके घरों को भेजने की व्यवस्था बसों द्वारा की जा रही है। लेकिन बसों के आभाव एवं बढ़ते श्रमिकों की संख्या की वजह से गाजीपुर, बलिया एवं वाराणसी के जिलाधिकारियों के अनुरोध पर वाराणसी मंडल द्वारा बलिया से प्रयागराज संगम, बलिया से वाराणसी, गाजीपुर सिटी से प्रयागराज संगम एवं वाराणसी से गोरखपुर के लिए श्रमिक स्पेशल गाड़ियों का परिचालन किया जा रहा है।

इसके अतिरिक्त बिहार सरकार के अनुरोध पर वाराणसी मंडल के जलालपुर स्टेशन से प्रतिदिन 05 गाड़ियाँ सुपौल, अररिया, कटिहार एवं मधुबनी के लिए चलाई जा रहीं हैं तथा इन गाड़ियों का ठहराव सीवान तथा छपरा में भी दिया जा रहा है, जिससे सीमावर्ती क्षेत्रों पर लॉकडाउन में फँसे श्रमिकों को अपने घर पहुँचने में सहूलियत हो रही है।

वाराणसी मंडल में अब तक देश के विभिन्न हिस्सों से कुल 110 श्रमिक स्पेशल गाड़ियों का आगमन हुआ है, जिससे पूर्वान्चल एवं बिहार के विभिन्न हिस्सों के लगभग 1,18,000 श्रमिक आये हैं।

वाराणसी मंडल द्वारा अब तक उत्तर प्रदेश एवं बिहार के विभिन्न स्थानों के लिए कुल 19 इन्टरस्टेट श्रमिक स्पेशल गाड़ियों का संचालन करते हुए लगभग 10,315 हजार श्रमिकों को उनके घरों तक पहुँचाया गया है।

मंडल रेल प्रबंधक विजय कुमार पंजियार ने बताया की वाराणसी मंडल सेवित क्षेत्र के विभिन्न स्टेशनों पर फंसे हुए प्रवासी मजदूरों को उनके गंतव्य तक पहुँचाने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन द्वारा राज्य सरकार एवं उत्तर रेलवे के लखनऊ मंडल के अनुरोध पर वाराणसी मंडल के विभिन्न स्टेशनों से श्रमिक स्पेशल चलाने की तैयारी पूरी कर ली गयी है।

उन्होंने बताया की गाजीपुर सिटी से प्रयागराज संगम ,बलिया से वाराणसी एवं वाराणसी से गोरखपुर के लिए 18 मई को प्रवासी मजदूरों के लिए स्पेशल ट्रेन चलाई और 19 मई को भी बलिया से प्रयागराज संगम ,वाराणसी से गोरखपुर श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाई गयी।

इसके अतिरिक्त बिहार सरकार के विशेष अनुरोध पर वाराणसी मंडल के जलालपुर स्टेशन से राज्य सरकार की माँग पर 5 ट्रेने सुपौल, अररिया, कटिहार एवं मधुबनी एवं स्थानों के लिये चलाई गई, जिससे सीमावर्ती क्षेत्रों में फंसे यात्रियों को सुविधा मिल रही है।

पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल के विभिन्न स्टेशनों पर 78 श्रमिक विशेष गाड़ियां आयी। इन श्रमिक विशेष गाड़ियों से आजमगढ़ में 26220, बलिया में 26446, छपरा में 17006 देवरिया में 13505, गाजीपुर सिटी में 8828, मऊ में 16908 तथा सीवान स्टेशन पर 6099 प्रवासी श्रमिकों सहित कुल 115009 यात्रियों को पहुँचाया गया।

प्रवासी श्रमिकों के अपने निवास के निकटवर्ती स्टेशनों पर आते ही उनके चेहरे पर खुषी स्पष्ट परिलक्षित हो रही है। प्रवासी श्रमिकों से स्टेशन पर गाड़ियों से उतरते ही निर्धारित प्रोटोकाल के अनुसार सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए उनके थर्मल स्क्रीनिंग करायी जा रही है और आवष्यक जांच के उपरान्त जिला प्रशासन द्वारा उन्हें गंतव्य तक भेजा जा रहा है।

लम्बी दूरी की श्रमिक विशेष गाड़ियों में खाने के पैकेट एवं पानी की बोतल उन्हें दिये जा रहे है। रेलवे प्रशासन द्वारा राज्यों की मांग पर आवश्‍यकतानुसार श्रमिक विशेष गाड़ियों का संचलन आगे जारी रहेगा।

विज्ञापन