वाराणसी : NE रेलवे श्रमिक संघ ने चलाया सरकार जगाओ अभियान, रेलवे निजीकरण का किया विरोध

Advertisements

वाराणसी। केंद्र सरकार द्वारा सरकारी संस्थाओं एवं रेलवे के निजीकरण प्रक्रिया के विरोध में भारतीय मजदूर संघ के आह्वान पर 24 से 30 जुलाई तक राष्ट्रव्यापी सरकार जगाओ सप्ताह चलाया जा रहा है। जिसके अंतर्गत पूर्वोत्तर रेलवे श्रमिक संघ वाराणसी मंडल द्वारा मंडल रेल प्रबंधक वाराणसी गेट पर प्रदर्शन और सभा का आयोजन किया गया।

इस संबंध में पूर्वोत्तर रेलवे श्रमिक संघ के मंडल मंत्री अरविंद कुमार ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार राष्ट्रीय संपदा रेलवे को पूंजीपतियों के हाथों नीलाम करने पर आमदा है। उन्होंने कहा भारतीय रेल सिर्फ लाभकारी नहीं बल्कि कल्याणकारी संस्था भी है, जिसमें सार्वधिक समामन्य जन यात्रा करते हैं और सस्ते दर पर माल ढुलाइ से जनमानस को सर्वाधिक लाभ मिलता है, जिसके निजीकरण से सिर्फ रेलवे का दोहन होगा।

इसी क्रम में संघ महामंत्री विशेश्वर राय ने निजीकरण के खिलाफ सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में निजी कंपनियों की कारगुजारियों को उजागर किया कि किस प्रकार सरकार की घोषणा के बावजूद भी कोविड 19 के चलते लॉकडाउन के दौरान निजी क्षेत्र में कार्यरत कर्मियों को भुखमरी की स्थिति में सड़क पर उतरने के लिए बाध्य होने पड़ा। उन्होंने कहा कि हम निजीकरण का विरोध नहीं करते बल्कि कल्याणारी संस्थाओं के निजीकरण का विरोध करते हैं।

सभा में हरिनारायण शर्मा, राकेश गिरी, डीके शर्मा, आशुतोष दुबे, राहुल यादव, सर्वेश पाण्डेय, सिलवेस्टर मिंज, बेचन सिंह यादव आदि प्रतिनिधियों ने अपने विचार रखें।