विज्ञापन

वाराणसी। संकटमोचन मंदिर में हनुमान जयंती कल धूम से मनायी गयी। बिना श्रद्धालूओं के सूने में मंदिर में देर शाम प्रसिद्द शास्त्रीय गायक पंडित जसराज ने जब अपने स्वरों की अमृतवाणी छेड़ी तो घरों में बैठे भक्तों ने तालियों से उनका स्वागत किया। लॉकडाउन के चलते हनुमान जयंती के इस कार्यक्रम में फेसबुक से ही पंडित जसराज ने संकटमोचन के दरबार में स्वरांजलि पेश की।

पंडित जसराज जैसे ही फेसबुक लाइव पर आये हज़ारों श्रधालूओं ने उनका अभिन्दन लाईक और कमेंट्स से किया। पंडित जसराज ने लाइव आते ही सभी को हनुमत जयंती की बधाई दी और संकटमोचन से विश्व में छाए संकट को दूर करने की कामना की। इसके बाद पंडित जसराज ने सर्वप्रथम राग हंसध्वनी में ‘पवन पुत्र हनुमान लला तुम’ से शुरुआत की। इसके बाद अपनी भाव विभोर करने वाली प्रस्तुतियों से उन्होंने बाबा दरबार को भक्तिमय कर दिया।

इससे पहले संकटमोचन मंदिर सहित शहर के अन्य मंदिरों में हनुमान जयंती सादगी पूर्वक मनाई गई। लॉकडाउन के चलते आम श्रद्धालु दर्शन-पूजन के लिए नहीं पहुंच सके। हर वर्ष चितईपुर से संकमोचन मंदिर तक निकलने वाली हनुमत ध्वजा यात्रा भी इस बार स्थगित रही। संकटमोचन मंदिर में महंत प्रो. विश्वंभरनाथ मिश्र की मौजूदगी में सुबह छह बजे से आठ बजे तक विशेष पूजन-अर्चन हुआ। बैठकी की झांकी भी सजी।

बता दें की इस वर्ष 12 से 17 अप्रैल तक होने वाला संकटमोचन संगीत समारोह भी फेसबुक लाइव द्वारा होगा और संगीत के रसिक बाबा दरबार में डिजिटल स्वरांजलि प्रस्तुत करेंगे।

विज्ञापन