विज्ञापन

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी साल 2020 के अपने पहले दौरे पर रविवार को वाराणसी पहुँच रहे हैं। वाराणसी से सांसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने इस दौरे पर काशी की जनता को 1200 करोड़ की सौगात देंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री अपने संसदीय क्षेत्र में 6 घंटे से अधिक का समय बिताएंगे। प्रधानमंत्री के पहले और दूसरे कार्यकाल को मिलाकर यह उनका 22वां वाराणसी दौरा है।

विज्ञापन

प्रधानमंत्री सुबह 10 बजे के बाद वाराणसी एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे, जहां उनका स्वागत राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ करेंगे। इसके बाद प्रधानमंत्री जंगमबाड़ी मठ में आयोजित वीरशैव महाकुम्भ, पड़ाव स्थित पंडित दीन दयाल स्मृति स्थल और बड़ा लालपुर स्थित ट्रेड फैसिलिटेशन सेंटर के कार्यक्रमों में शिरकत कर शाम 5 बजे के बाद वापस दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

विज्ञापन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टीएफसी और पड़ाव में एक घंटे से अधिक का समय व्यतीत करेंगे। पड़ाव पर प्रधानमंत्री पंडित दीन दयाल उपाध्याय की 63 फुट ऊँची प्रति‍मा का अनावरण करेंगे और जनसभा को सम्बोधित करेंगे। यहीं से महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाएंगे और चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर का लोकार्पण करेंगे।

विज्ञापन

इसके अलावा जंगमबाड़ी मठ में प्रधानमंत्री एक घंटे से कुछ कम का समय व्यतीत करेंगे। यहां आयोजित मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ आठ अन्य विशिष्ट जन मंच साझा करेंगे। इनमें रंभापुरी मठ के जगदगुरु वीर सोमेश्वर शिवाचार्य महास्वामी, उज्जैनी पीठ के जगद्गुरु सिद्धलिंराज शिवाचार्य, श्रीशैलम पीठ के जगदगुरु डॉ चन्नासिद्धारामा, काशी पीठ के जगदगुरु डॉ चंद्रशेखर शिवाचार्य, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं कर्नाटक के सांसद जयसिध्देश्वर शिवाचार्य शामिल हैं।

विज्ञापन
विज्ञापन
Loading...