विज्ञापन

वाराणसी। जहाँ एक ओर पूरा देश कोरोना संक्रमण से जूझ रहा है और देश के प्रधानमंत्री पूरे श्रम से इस महामारी से निपटने के कदम उठा रहे हैं। ऐसे में भी प्रधानमंत्री अपने संसदीय क्षेत्र काशी के प्रति पूरे संवेदनशील हैं। गुरुवार को अलसुबह अचानक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का टेलीफोन आया और पूछा कि रवीन्द्र जी कैसे हैं मेरी काशी के लोग कैसे हैं।

सोशल मीडिया के माध्यम से उन्हें मिली सूचनाओं में वाराणसी उत्तरी के कार्यकर्ता जो घरघर मोदी टिफ़िन पहुचा रहे थे। सभी को इस नेक कार्य के लिए उन्होंने बधाई दी और कहा कि सभी कार्यकर्ता इस घड़ी में घर से ही यथासंभव लोगों की मदद करें।

प्रधानमंत्री मोदी ने मंत्री रवीन्द्र जायसवाल से वाराणसी में गरीबों, दिहाडी मजदूरों, पंजीकृत श्रमिकों को राशन ,जरूरतमन्दों को दवा व आवश्यक सामग्री की उपलब्धता व कोरेन्टीन में रखे गए लोगों के बारे में जानकारी ली। आम आदमियों के साथ प्रशासन की भूमिका के बारे में भी पूछा। यह भी कहा कि इस संकट की घड़ी में सेवा में कोई कमी न रहने पाए और सभी लोग अपने मोबाइल पर आरोग्य सेतु एप्पडाउनलोड करें।

जिससे लोग अपनी जांच खुद कर सकेंगे, साथ ही उन्होंने काशी के सभी लोगों से अपील की कि अपने अपने घरों पर ही रहें और कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए उन्हें मजबूती प्रदान करें। अंत मे वाराणसी में किसी प्रकार की कमी या समस्या होने पर उन्हें अवगत कराने को भी कहा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बहुत जल्दी देश कोरोना महामारी पर विजय प्राप्त करेगा।

विज्ञापन