विज्ञापन

वाराणसी। लॉकडाउन के दौरान जिले के सभी असहाय लोगों, मजदूरो और श्रमिकों के खाने-पीने एवं भोजन की समस्या को दीर करने के लिए एडीजी द्वारा गठित पब्लिक अन्नपूर्णा बैंक हर रोज वाराणसी के 14 थानों में सुबह-शाम फुड पैकेट्स भेज कर जिले के विभन्न क्षेत्रों में इसका वितरण करवा रही है। हमारे पुलिसकर्मी सुरक्षा के साथ-साथ हमारे खाने-पीने से लेकर दवाओं तक का ध्यान रख रहे हैं।

पुलिस पब्लिक अन्नपूर्णा बैंक के नोडल ऑफिसर सीओ अर्जुन सिंह ने बताया कि एडीजी जोन द्वारा हमारे जोन के सभी जिलों में पुलिस पब्‍लि‍क अन्नपूर्णा बैंक गठित किया गया है। सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के चलते सभी सामाजिक संस्थाएं, व्यापारिक संस्थाएं जो फूड पैकेट्स गरीबों के लिए तैयार करते हैं, उन्हें यहां वाहन के जरिये एकत्रित किया जाता है।

इसके बाद जितने भी थाने हैं उऩसे उनके एरिया की रिक्वायरमेंट पूछी जाती है। उस हिसाब से ये फूड पैकेट्स संबंधित थाने में भेज दिये जाते हैं। इसके बाद थाने स्तर से पुलिस खाने को सभी जरुरतमंदों को बंटवाती है।

उन्होंने बताया कि अगर कोई ऐसा परिवार मिलता है, जिनके पास राशन कार्ड नहीं है तो उसे संस्थाओँ द्वारा दिये गए ड्राई राशन वितरित करवा दिये जाते हैं। इस एक हफ्ते के राशन में 5 किलो आटा, 3 किलो चावल,1 किलो दाल, आधा किलो चिनी-नमक, तेल, मसाले का किट रहता है।

सीओ अर्जुन सिंह ने ड्रोन कैमरे से निगरानी के बारे में बताया कि जो लोग लॉकडाउन के बाद भी गलियों में अऩावश्यक घूमते हैं। उन सभी लापरवाह लोगों कि निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे से निगरानी की जा रही है। ऐसे लोगों के खिलाफ प्रशासन द्वारा कड़ी कार्रवाई भी की जायेगी।

उन्होंने बताया कि आदेश के बाद भी जो लोग मास्क लगाकर नहीं निकल रहे हैं। उन सभी लोगों के खिलाफ धारा 188 के तहत मुकदमा दायर किया जाएगा। सीओ अर्जुन सिंह ने शहरवासियों से अपील की है कि घर से बाहर बिलकुल न निकले अगर किसी आवश्यक काम के लिए बाहर निकल भी रहे हैं तो मास्क लगाकर ही निकले और वाहन के बिना ही सामान लेने जाये।

देखें वीडि‍यो

विज्ञापन