विज्ञापन

वाराणसी। कांग्रेस की महासचिव बनाये जाने के बाद प्रियंका गांधी ने लोकसभा चुनाव के पहले गंगा यात्रा कर कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश भरा था। इस दौरान उन्होंने प्रयागराज से वाराणसी तक नाव से यात्रा की थी। वाराणसी में प्रियंका ने जिस नाव से यात्रा की थी उसके नाविक की बेटी की शादी में आने के लिए भेजे गए निमंत्रण का प्रियंका गांधी ने एक भावुक पत्र से जवाब दिया है।

विज्ञापन

विज्ञापन

प्रियंका गाँधी का यह शुभकामना पत्र सोमवार को वाराणसी पहुंचे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष को नाविक के घर रामनगर ले जाना था पर अपरिहार्य कारणों से उनका कार्यक्रम स्थगित हो गया और अब इसे कांग्रेस के पूर्व विधायक अजय राय नाविक के घर तक पहुंचाएंगे। नाविक अशोक साहनी फिलहाल बेडरेस्ट पर हैं और हाल ही में उनके ब्रेन का ऑपरेशन हुआ है।

विज्ञापन

विज्ञापन

प्रियंका गांधी ने नाविक अशोक सहानी की बेटी भारती को एक भावुक शुभकामना सन्देश लिखकर ना आ पान पर खेद जताया है साथ ही वैवाहिक जीवन के सुखमय होने की शुभकामना दी है।

प्रियंका गाँधी ने अपने सन्देश में लिखा है कि ‘भारती और आशीष, वैवाहिक जीवन में बंधने के लिए आप दोनों को बहुत-बहुत बधाई। मेरी शुभकामना है कि आप दोनों का वैवाहिक जीवन खुशियों से भरा हो और आप दोनों एक दूसरे के अच्छे दोस्त बनकर एक भरपूर जिंदगी गुजारें। मुझे अफसोस है कि कुछ व्यस्तता के चलते मैं आपके विवाह के उत्सव समारोह में शामिल नहीं हो पा रही हूं। मेरी शुभकामनाएं आप दोनो के साथ हैं। कृपया परिवार के सभी सदस्यों को मेरा स्नेह दें।’

प्रियंका गांधी की सलाहकार परिषद् के सदस्य और पूर्व विधायक अजय राय यह पत्र अशोक के घर पहुंचाएंगे। बता दें कि अशोक साहनी पुराना रामनगर, मल्लहिया टोला में रहते हैं। अशोक साहनी की जिस नाव से प्रियंका गांधी ने नौका यात्रा की थी, उनके लौटने के बाद वह नाव जली हुई स्थिति में गंगा पार मिली थी। उसके साथ एक और नाव में तोड़ फोड़ हुई थी। कहा जा रहा था कि भाजपा के लोगों ने उस नाव को जलाया, तोड़ा।

विज्ञापन
Loading...