विज्ञापन

वाराणसी। पेट्रोल और डीजल के दामों में वृद्धी के बाद से ही शहर में हर रोज विपक्षी राजनैतिक पार्टियों द्वारा पेट्रो मूल्य वृद्धी के विरोध में धरना प्रदर्शन हो रहे हैं। इसी क्रम में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को लंका मालवीय चौराहे पर धरना प्रदर्शन किया। धरना प्रदर्शन की सूचना पर पहुंची पुलिस ने उन्हें वहां से हटने को कहा तो वो नहीं माने।

इसके बाद लंका पुलिस सभी प्रदर्शनकारियों को पुलिस जीप में बैठाकर थाने ले आयी।

इस प्रदर्शन में सपा कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि देश में आई संकट की घड़ी में लगातार बढ़ते हुए डीजल, पेट्रोल, गैस के दामों को लेकर देश में हाहाकार मचा हुआ है, भ्रष्टाचार चरम सीमा पर हैं। पुरे प्रदेश में नौजवानों की सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी बनी हुई है तो दुसरी तरफ हमारे मुख्यमंत्री योगी लाखो लोगों को रोजगार देने का झुठा दिखावा कर रहे हैं।

सपा कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाते हुए कहा कि यह सरकार हर पहलू पर पूरी तरह नाकाम साबित हुई है। कोरोना के संकट काल में भी केंद्र सरकार लोगों को सही स्वास्थ सुविधाएं उपलब्ध कराने में असफल साबित हुई है और कोरोना जैसी महामारी पर भी राजनीति करने रही है। सपाइयों ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जब देश में 500 संक्रमित मरीज थे तब ताली और थाली बजावाई आज जब 5 लाख से ज्यादा मरीज हो गए हैं ‌तब आत्मनिर्भर होने की बात की जा रही है।

साप महानगहर महासचिव अमन यादव ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह सरकार कोरोना महामारी का आढ़ लेकर लगातार घोटालेबाजी कर रही है। सपा कार्यकर्ता अमन यादव ने कहा कि देश के लिए कोरोना महामारी से भी खतरनाक बीजेपी सरकार साबित होगी, जिस तरह से गरीब परिवारों को नजरंदाज कर के दिन-प्रतिदिन हर चीज के दामों में वृद्धी की जा रही है। हम सभी समाजवादी कार्यकर्ता लगातार इसका विरोध करते रहेंगे।

इस धरना प्रदर्शन में मिथिलेश साहनी बच्चा सपा महानगर अध्यक्ष पिछड़ा प्रकोष्ठ, राधेश्याम यादव, राहुल यादव, कुंवर विक्रम सिंह चौहान, राजवीर सिंह, राजेश यादव, रमेश कुमार, अमन यादव मौजूद रहें।

विज्ञापन