Son had got father killed in property dispute, 2 arrested
विज्ञापन

वाराणसी। फूलपुर थानाक्षेत्र के रमईपुर में बीती 19 मार्च को भट्टा मालिक राम लाल पटेल की ह्त्या में शामिल अभियुक्तों को फूलपुर पुलिस और क्राइम ब्रांच ने मुखबिर की सटीक सूचना के बाद गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए अभियुक्तों को बुधवार को एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने मीडिया के सामने पेश किया। पुलि‍स के अनुसार भट्ठा मालिक की ह्त्या उसके छोटे बेटे ने ही जायदाद के लालच में करवाई थी।

इस सम्बन्ध में एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने बताया कि जनपद में अपराध और अपराधियों पर नकेल कसने के लिए वाराणसी पुलिस हर वक़्त तत्पर है और बड़े स्‍तर पर कार्रवाई की जा रही है। इसी क्रम में देर रात वाराणसी पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। बीती रात फूलपुर प्रभारी निरीक्षक सनवर अली और क्राइम ब्रांच इंचार्ज अश्वनी पांडेय थानाक्षेत्र के मीराशाह तिराहे पर मौजूद थे।

एसएसपी ने बताया कि इसी दौरान इन्हे मुखबिर से सूचना मिली कि 19 मार्च 2020 को थानाक्षेत्र के रमईपुर में भट्टा मालिक राम लाल पटेल की हत्या में मुख्य अभियुक्त रामपुर हाइवे पुल के पास मौजूद है। इसपर स्थानीय पुलिस और क्राइम ब्रांच ने मुखबिर के बताये स्थान पर कार के साथ मौजूद एक व्यक्ति को घेरकर हिरासत में ले लिया। पकड़े गए व्यक्ति ने अपना नाम आनंद यादव निवासी बड़ा अहिरान, पिंडरा थाना फूलपुर बताया।

पकड़े गए युवक की तलाशी ली गयी तो उसके पास एक .32 बोर का असलहा भी बरामद हुआ है। एसएसपी ने बताया कि युवक ने पूछताछ में बताया कि राम लाल पटेल के छोटे बेटे लाल बहादुर पटेल ने ही यह हत्या करवाई है। उसने बताया कि मेरे गैंग के सरगना सिज्जन यादव को भट्ठा मालिक राम लाल पटेल के छोटे बेटे लाल बहादुर पटेल ने अपने पिता की सुपारी दी थी। काम होने पर एक अपाचे हमें और छोटे लाल पटेल सिज्जन सिंह को दो बिस्वा ज़मीन देने का वादा किया था।

एसएसपी ने बताया कि पुलिस पकड़े गए अभियुक्त आनंद की निशानदेही पर साजिशकर्ता छोटे लाल पटेल की गिरफ्तारी के लिए जा रही थी, कि रस्ते में ही आनंद की उसने शिनाखत की तो उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया।

छोटे लाल ने बताया कि उसके पिता ने उसपर आरोप लगाकर भट्ठे से हटा दिया था, और भट्ठे का सारा कारोबार बड़े भाई को दे दिया था और सारा कारोबार उन्ही के नाम करने वाले थे इसलिए यह कदम उठाया।

फिलहाल पुलिस पकड़े गए अभियुक्तों को सम्बंधित धाराओं में जेल भेजने की तैयारी कर रही है। इन दोनों अभियुक्तों को पकड़ने में सब इंस्‍पेक्‍टर अश्वनी पांडेय, सब इंस्‍पेक्‍टर विश्वनाथ प्रताप सिंह, सब इंस्‍पेक्‍टर प्रदीप यादव, सब इंस्‍पेक्‍टर अजीत सिंह, हेड कांस्टेबल पुनदेव सिंह, हेड कांस्टेबल घनश्याम वर्मा, कांस्टेबल कुलसदीप सिंह, कांस्टेबल रामबाबू, कांस्टेबल जतेंद्र सिंह, कांस्टेबल अनूप कुशवाहा, कांस्टेबल शिव बाबू, कांस्टेबल मृत्युंजय एवं फूलपुर थाने के प्रभारी इंस्‍पेक्‍टर सनवर अली, सब इंस्‍पेक्‍टर अरविन्द कुमार यादव, सब इंस्‍पेक्‍टर हरिकेश सिंह, सब इंस्‍पेक्‍टर लक्ष्मण प्रसाद शर्मा, हेडकांस्टेबल चालक फूलचंद्र यादव, कांस्टेबल प्रदीप कुमार, कांस्टेबल मुकेश सेन एवं कांस्टेबल महेंद्र कुमार ने मुख्य भूमिका निभाई।

देखें वीडि‍यो

विज्ञापन