ANUSHKA
विज्ञापन

वाराणसी। शनिवार की रात आंधी और पानी ने वाराणसी के खेल जगत में शोक की लहर दौड़ा दी है। रात में आयी आंधी से गिरे पेड़ के निचे दबकर बास्केटबॉल की उदयीमान राष्ट्रिय स्तर की खिलाड़ी ने दम तोड़ दिया। शिवपुर थानाक्षेत्र के चुप्पेपुर गांव में हुए इस हादसे के सन्नाटा पसरा हुआ है। बास्केटबॉल खिलाड़ी अनुष्का महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ की छात्रा थी।

इस सम्बन्ध में अनुष्का के दादा छेदी राजभर ने बताया कि जब शाम में हवा चलने लगी तो अनुष्का पास के ही बगीचे में चली गयी थी। उसी समय अचानक तेज आंधी व बारिश आ गई जिसमें पेड़ की एक डाली टूट कर अनुष्का के गर्दन पर गिर गई। घटना की जानकारी जैसे ही हमें हुई हम लोग और गांव के लोग बगीचे में पहुंचे और अनुष्का पर गिरी डाल को हटाकर बाहर निकाला लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी।

अनुष्का बीए की छात्रा भी थी साथी ही वह बास्केटबॉल की अच्छी राष्ट्रीय खिलाड़ी भी थी, पांच बहनों में अनुष्का चौथे नंबर की थी इस घटना के बाद परिजन में कोहराम मच हुआ है।

खेल जगत का हुआ नुकसान
अनुष्का पिछले पांच सालों से यूपी कालेज बास्केटबॉल ग्राउंड में साईं के कोच सुरेंद्र कुमार प्रकाश के अलावा कार्तिक राम और विभोर भृगुवंशी की देख रेख में बास्केटबॉल का ककहरा सीख रही थी। विभोर भृगुवंशी ने बताया कि अनुष्का बास्केटबॉल में प्वॉइंट गार्ड की पोज़िशन पर खेलती थी और हाल ही में उसके उम्दा खेल की बदौलत काशी विद्यापीठ की टीम ने पहली बार उड़ीसा में ईस्ट ज़ोन इंटर यूनिवर्सिटी बास्केटबॉल का गोल्ड मैडल जीता था।

विभोर ने बताया कि अनुष्का वेल डिसिप्लिन खिलाड़ी थी। उसकी तमन्ना थी कि अच्छा खिलाड़ी बन एक नौकरी करूँ और परिवार और गांव का नाम रौशन करूं। विभोर ने भारी मन से कहा कि यह खेल जगत का नुकसान है क्योंकि इतनी कम उम्र में अच्छा खलने वाले कम ही खिलाड़ी होते हैं।

विज्ञापन