The manure made from Kashi Vishwanath's rinses did wonders, the devotee reached the Baba court with a gourd of 7 fit (1)
विज्ञापन

वाराणसी। राष्ट्रपति द्वारा पुरस्कृत किसान श्रीप्रकाश सिंह रघुवंशी रंगभरी एकादशी के पावन पर्व पर बाबा दरबार पहुंचे तो हर कोई उन्हें देखता रह गया। उनके और उनके सहयोगी हाथ में 7 फिट से अधिक लम्बी लौकी देख हर कोई अचरज में पड़ गया। जनपद के राजातालाब तहसील के तड़िया जक्खिनी गांव निवासी किसान ने यह लौकी बाबा के निर्माल्य की खाद से तैयार किया है और आज उसे बाबा को चढाने पहुंचा था।

विज्ञापन

विज्ञापन

इस संबंध में राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित किसान श्रीप्रकाश सिंह रघुवंशी ने बताया कि आज मैं लौकी लाया हूं बाबा को चढाने के लिये। ये लौकी 5 से 7 फिट की है। श्रीप्रकाश सिंह ने बताया कि यह देसी बीज की लौकी है और इससे बार बार लौकी तैयार की जा सकती है।

विज्ञापन

श्रीप्रकाश ने बताया कि यह चमत्कार बाबा के में चढ़ने वाले फूल, माला, बेलपत्र से बनने वाली जैविक खाद का कमाल है। हम बाबा के निर्माल्य को लेजाकर जैविक खाद बनाते हैं और इसी से लौकी की फसल उगाते हैं। श्रीप्रकाश ने बताया कि यह बाबा का आशीर्वाद है।

विज्ञापन

बता दें की जनपद के राजातालाब तहसील के तड़िया जक्खिनी गांव के रहने वाले श्रीप्रकाश सिंह रघुवंशी को पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम आज़ाद और मौजूदा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद खेती के लिए सम्मानित कर चुके हैं।

देखें वीडि‍यो

विज्ञापन