Varanasi junction Passengers endured due to high explosions several times in succession line
विज्ञापन

वाराणसी। पूरा देश इस समय कोरोना वायरस से लड़ने के तरीके ढूंढ रहा है। ऐसे में हर जगह सतर्कता बरती जा रही है, पर वाराणसी जंक्‍शन रेलवे स्टेशन पर लापरवाही से यात्रियों की जान पर बन आयी। रेलवे स्टेशन के गेट नंबर दो (छावनी एरिया) की तरफ जाने वाले फुट ओवरब्रिज पर काम कर रहे कर्मचारियों की लापरवाही से प्लाईवुड का टुकड़ा नीचे से गुज़र रही बिजली के हाईटेंशन तार से उलझ गया और उसके बाद एक के बाद एक कई तेज़ धमाके हुए, जि‍ससे नीचे खड़ी ट्रेन में बैठे यात्री सहम गए।

विज्ञापन

विज्ञापन

फिलहाल इस समबन्ध में काम करवा रहे सुपरवाइज़र ने गैर ज़िम्मेदाराना बयान देते हुए कहा कि हादसा ही है, बच्चे काम कर रहे हैं तो कुछ भी हो सकता है। रेलवे को ब्लाक लेना चाहिए।

विज्ञापन

विज्ञापन

कैंट रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म के उपरगामी सेतु (ओवर ब्रिज) पर ढलाई का काम चल रहा है, जिसके लिए ब्रिज के साइड में प्लाई बांधकर मिस्त्री काम कर रहे हैं। गुरूवार की दोपहर काम कर रहे कर्मचारियों की लापरवाही से अचानक से ढलाई के लिए लगायी गयी प्लाई टूटकर नीचे से गुज़र रहे हाईटेंशन तार पर गिर गयी।

इस दौरान खड़ी ट्रेन में यात्रा करने के लि‍ये सवार हुईं महिला यात्री सुषमा ने बताया कि अचानक से बम फटने की आवाज़ के साथ तेज़ रौशनी हुई। अभी हम कुछ समझ पाते तबतक एक और धमाका हुआ और हम सभी ट्रेन की बोगी से बाहर निकल आये।

इस सम्बन्ध में जब ओवरब्रिज पर काम करवा रहे सुपरवाइज़र से बात की तो उन्होंने बताया कि मुझे अभी पता चला तो मै यहां आया हूं। लापरवाही तो है ही पर काम चल रहा है तो हादसे का होना बढ़ जाता है। ऐसे कामों के लिए ब्लाक लिया जाना चाहिए।

घटना की सूचना पर रेलवे के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे पर किसी ने इस सम्बन्ध कुछ भी बताने से इंकार कर दिया।

देखें वीडि‍यो

विज्ञापन