वाराणसी : कूड़ा जलने की सूचना देने वाले को मिलेगा एक हज़ार का इनाम

फाइल चित्र
विज्ञापन

वाराणसी। पूरे देश में वायु प्रदूषण इस समय जानलेवा स्तर पर है। सुप्रीम कोर्ट भी इस मामले संज्ञान लेकर केंद्र और राज्य सरकारों को चेता चुकी है। दिल्ली के साथ ही प्रधानमंत्री संसदीय क्षेत्र में भी वायु प्रदूषण का लेवल बढ़ गया है। ऐसे में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने इस प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए कमर कस ली है।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारी के अनुसार शहर में हो रहे सरकारी और गैर सरकारी कंस्ट्रक्शन से हो रहे प्रदूषण और कूड़ा जलाने पर सख्ती की जाएगी, जो भी व्यक्ति कूड़ा जलाने की सूचना विभाग को देगा उसे एक हज़ार का इनाम भी दिया जाएगा।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सहायक वैज्ञानिक अधिकारी डॉ टी एन सिंह ने बताया कि जहां भी सड़क और मकानों के कंस्ट्रक्शन के दौरान बनाने या तोड़ने का कार्य चल रहा और उससे प्रदूषण हो रहा है तो जो दोषी होगा उसपर जुर्माना लगाया जायेगा। उन्होंने बताया कि हमने सेतु निगम, लोक निर्माण विभाग के साथ साथ सभी बिल्डरों को नोटिस भेज दी है ताकि वो लोग प्रदूषण में कमी में सहायक की भूमिका निभाएं। इसमें यदि कोई दोषी पाया जा रहा है तो हम उसपर कार्रवाई भी कर रहे हैं।

शहर के कूड़ा घरों और डम्पिंग स्टेशनों पर कूड़ा जलाये जाने की घटना पर बोलते हुए प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सहायक वैज्ञानिक अधिकारी डॉ टीएन सिंह ने बताया कि हम कठोर कदम उठा रहे हैं साथ ही कूड़ा जलाये जाने की सूचना देने वालों को इनाम के रूप में 1 हज़ार रूपये देने की योजना भी आ गयी है और पैसे हम प्राप्त हो चुके हैं। बताने वाले का नाम पूरी तरह से गुप्त रखा जाएगा और दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई होगी।

Loading...