वाराणसी पुलिस के हत्थे चढ़े 4 शातिर चोर, कब्जे से मिला 1 दर्जन से अधिक इलेक्ट्रॉनिक माल

Advertisements

वाराणसी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वाराणसी द्वारा चलाये जा रहे संदिग्ध व्यक्ति/वाहन की चेंकिग के अभियान के क्रम में शुक्रवार को उप निरीक्षक संतोष कुमार यादव और क्राइम ब्रांच उप निरीक्षक अश्वनी पाण्डेय ने अपनी पुलिस टीम के साथ मिलकर चोरी का माल छिपा रहे चार चोरों को गिरफ्तार कर लिया।

उप निरीक्षक संतोष कुमार यादव मय हमराह पुलिस बल के ग्राम हृदयपुर रिंग रोड पुलिया के पास संदिग्ध वाहन व संदिग्ध व्यक्तियों कि चेकिग कर रहे थे इसी समय क्राइम ब्रान्च उप निरीक्षक अश्वनी पाण्डेय मय हमराह पुलिस बल के भी आ गये। तबी मुखबीर द्वरा सूचना मिली कि बेनीपुर अग्रेजी शराब के दुकान के पीछे एक बाउन्ड्री वाल मे कमरा बना है जिसमे चोर चोरी का माल छिपा कर रखे है। चार चोर उस कमरे में बैठे है, जो चोरी का माल हटाने वढाने के फिराक में है।

सूचना मिलते ही पुलिस टीम ने उक्त स्थान पर पहुंचकर चारों चोर विशाल कुमार, अर्जन राजभर, गुलाब हरिजन और राम प्रसाद सुनोकर को पकड़ लिया। पकड़े गए अभियुक्तों से पूछताछ करने पर उन्होंन बताया कि हम चारों लोग मिलकर शहर में घूम फिर कर चोरी करते हैं। पुलिस द्वारा छानबीन करने पर अभियुक्तों के पास से 4 LED टीवी, 2 लैपटॉप, 2 इंवर्टर, 2 इंवर्टर बैटरी सहित एक दर्जन से अधिक इलैक्ट्रॉनिक सामानें बरामद की गई।

उक्त गिरफ्तारी के संबंध में थाना सारनाथ पुलिस द्वारा आवश्यक कार्ऱवाई की जा रही है। गिरफ्तार करने वाली टीम में उप निरीक्षक संतोष कुमार यादव, उप निरीक्षक धर्मराज शर्मा, उप निरीक्षक हर्षमणि तिवारी, कांस्टेबल बूटा यादव, उप निरीक्षक अश्वनी पाण्डेय, उप निरीक्षक प्रदीप यादव, उप निरीक्षक अरूण प्रताप सिंह, हेड कांस्टेबल पुनदेव सिंह, हेड कांस्टेबल सूरेन्द्र कुमार मौर्य, हेड कांस्टेबल घनश्याम वर्मा, कांस्टेबल चन्द्रसेन सिंह, कांस्टेबल रामबाबू, कांस्टेबल जितेन्द्र सिंह, कांस्टेबल अनूप कुश्वाहा, कांस्टेबल शिवबाबू, कांस्टेबल नीरज मौर्या, कांस्टेबल विरेन्द्र यादव, कांस्टेबल अमित कुमार शुक्ला, कांस्टेबल आलोक मौर्या, कांस्टेबल बाल मुकुन्द मौर्य, कांस्टेबल सूरज कुमार सिह क्राइम ब्रांच ने मुख्य भूमिका निभाई।