विज्ञापन

वाराणसी। ईश्वर कब किसको किस रूप में मिल जाए यह कोई नहीं जानता। इस कठिन परिस्थिति में हमारी वाराणसी पुलिस भी इस वक्त ईश्वर के रुप से कम नहीं है। ऐसी ही मानवता की एक मिसाल कायम की है रामनगर थाना अंतर्गत सूजाबाद चौकी इंचार्ज आशीष मिश्रा ने क्षेत्र में कई दिनों से भूखे फटे हाल भटक रहे 60 वर्षिय व्यक्ति को न केवल खाना खिलाया बल्कि उसके बाल कटवा कर कपड़े भी बदलवाये।

रास्ते से गुजरने वाले लोग यह सोचकर उस बूढ़े व्यक्ति की मदद नहीं कर रहे थें कि वह कोरोना संक्रमित हो सकता है। लॉकडाउन के दौरान हर पुलिस वाले का दिन सड़क पर ही बीत रहा है। चौकी इंचार्ज आशीष मिश्रा भी हर दिन की तरह सड़क पर ड्यूटी कर रहे थें। गंदा-फटा कपड़ा पहने भूख से तड़प रहे बुजुर्ग पर उनकी नजर पड़ी।

आशीष ने उसे खाना खिलाने के बाद उसका बाल कटवाया और कपड़े भी बदलवाये। सूजाबाद पुलिस चौकी के बगल में स्थित हनुमान जी के मंदिर में उन्हें दर्शन कराया। पूछने पर पता चला कि बुजुर्ग लहरतारा के रहने वाले हैं। चौकी इंचार्ज आशीष मिश्रा ने उनके घर वालों से संपर्क करने की कोशिश लेकिन सफलता नहीं मिली। बुजुर्ग अपने नाम भइयालाल और जगह लहरतारा के अलावा कुछ भी नहीं बोल रहे हैं।

विज्ञापन