विज्ञापन

वाराणसी। कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए पूरे देश में 21 दिनों का लॉक डाउन है, जिसके अनुपालन में शासन एवं प्रशासन के अफसर व पुलिस के जवान जी जान से लगे हुए हैं। फिर भी लाख मनाही के बाद भी लोग बेवजह घरों से निकलने में जरा भी नहीं हि‍चक रहे। ऐसे लोगों को चिह्नि‍त कर पुलिस अपने तरीके से पनिशमेंट भी दे रही है। ऐसे लापरवाह लोगों को कहीं पुलिस उठक बैठक करवा रही, कहीं मुर्गा बना रही, तो कहीं लाठी की भाषा से भी समझा रही है, वहीं वाराणसी पुलि‍स अब ऐसे लोगों को गांधीगीरी के जरि‍ये भी समझाने की कोशि‍श कर रही है।

विज्ञापन

विज्ञापन

वाराणसी में पुलिस कुछ विशेष तरीके से लोगों को समझा रही है। जि‍ले के युवा आईपीएस व एएसपी मोहम्मद मुश्‍ताक ने गुरुवार को सड़कों पर घूम रहे लोगों को पास बुलाया और उन्हें गांधीगीरी के जरि‍ये गुलाब का फूल थमाते हुए घरों में ही रहने की हिदायत दी।

विज्ञापन

विज्ञापन

इसके साथ ही एएसपी मोहम्मद मुश्‍ताक ने वाराणसी के गि‍लट बाजार, शि‍वपुर, भोजूबीर आदि‍ क्षेत्रों यहां तक कि‍ गलियों में भी दरवाजे-दरवाजे जाकर विशेषकर महिलाओं को समझाया कि बच्चे मां की बात ज्यादा मानते हैं, इसलिए अपने बच्चों को समझाए और उन्हें घरों में रखें, वरना पुलिस द्वारा ऐसे लोगों पर कड़ी कार्रवाई होगी। मोहम्‍मद मुश्‍ताक के अनुसार जो प्रशासन के निर्देशों का पालन नहीं करेगा, तो उसके खि‍लाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्हें जेल भी जाना पड़ सकता है।

देखें वीडियो 

देखें तस्वीरें 

विज्ञापन