वाराणसी : विजयदशमी पर ऐसे हुआ शस्त्र पूजन

वाराणसी। विजयदशमी के दिन शहर के विभिन्न मंदिरों और घरों में शस्त्र पूजन हुआ। शासकीय शस्त्रागारों के साथ आमजन ने भी आत्मरक्षा के लिए रखे जाने वाले शस्त्रों का पूजन सर्वत्र विजय की कामना के साथ किया। साथ ही देश की उन्नति की आराधना भी की। सनातन परंपरा में शस्त्र और शास्त्र दोनों का बहुत महत्व है। शास्त्र की रक्षा और आत्मरक्षा के लिए धर्मसम्म्त तरीके से शस्त्र का प्रयोग होता रहा है।

विजयदशमी के दिन ही राजा विक्रमादित्य ने दशहरे के दिन देवी हरसिद्धि की आराधना की थी। छत्रपति शिवाजी ने भी इसी दिन मां दुर्गा को प्रसन्न करके भवानी तलवार प्राप्त की थी।

विजय के प्रतीक दशहरा वाले दिन देश भर में अस्त्र-शस्त्र की पूजा का विधान है। मान्यता है कि इस दिन जो भी काम किया जाता है उसका शुभ फल अवश्य प्राप्त होता है। वहीं यह भी माना जाता है कि शत्रुओं पर विजय प्राप्त करने के लिए इस दिन शस्त्र पूजा अवश्य की जानी चाहिए। दशहरा क्षत्रियों का बहुत बड़ा पर्व है। इस दिन ब्राह्मण सरस्वती पूजन और क्षत्रिय शस्त्र पूजन करते हैं।

इसी क्रम में महानगर बनारस के सुंदरपुर चौराहे पर स्थित हनुमान मंदिर पर विजयदशमी की सुबह बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने शस्त्र पूजन किया। इस दौरान तलवार, राइफल और पिस्टल रख उन्हें विधि विधान से पूजा गया। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने इस मौके पर भारतीय जीवन मूल्य रक्षा का संकल्प भी लिया। बजरंग दल के काशी विभाग के संयोजक अर्जुन कुमार मौर्या ने बताया कि आज का दिन अन्याय पर न्याय की जीत का दिन है। आज के दिन मर्यादा पुरषोत्तम भगवान राम ने असत्य के पुजारी रावण का वध कर सत्य को जीत दिलाई थी और धर्मराज्य की स्थापना की थी। आज दशहरा के दिन सभी विजय दिवस मनाते हैं और शस्त्र पूजन करते हैं। इसी क्रम में हमने भी आज शस्त्र पूजा की है।

अर्जुन कुमार मौर्या ने बताया कि 8 अक्टूबर के ही दिन साल 1984 में बजरंग दल की स्थापना अयोध्या में राम जानकी रथयात्रा के शुभारम्भ के समय हुई थी। आज हमने अपना स्थापना दिवस भी मनाया है और भारतीय जीवन मूल्यों की रक्षा का संकल्प लिया है।

इस दौरान प्रमुख रूप से राधेश्याम, अनिल यादव, कन्हैया सिंह, संजय सिंह, राजेश पांडेय, विक्की मौर्या, शिवम् पांडेय, शिवम् चौहान, विशाल मौर्या, हरिनाथ सिंह, मनीष सिंह, संजीव सोनकर, अरविन्द शर्मा, बृजेश सिंह, अजय सिंह, आदित्य पटेल, आदित्य प्रजापति, मुकेश चटर्जी, शाश्वत मालवीय, एसपी सिंह, सस्मित बरनवाल, अनिल यादव, श्रृवण मौर्या, अमित पटेल, आकर्ष सिंह, अभिषेक मौर्या, रवि मौर्या, महेश पटेल, अखिलेश गिरी, लोकनाथ तिवारी, संदीप गिरी, शिवकुमार यादव, संजय यादव व धीरज सिंह मौजूद रहे।

देखिये वीडियो 

Loading...