विज्ञापन

बनारस। शारदीय नवरात्र की आज सप्तमी तिथि है। इस तिथि पर माता कालरात्रि के दर्शन पूजन का विधान है। धर्म की नगरी काशी में माता कालरात्रि का मंदिर चौक के कालिका गली में स्थित है। मना जाता है कि माता के चरणों में गुड़हल के पुष्प की माला, लाल चुनरी, नारियल, फल, मिष्ठान, सिन्दूर, रोली, इत्र और द्रव्य अर्पित करना विशेष फलदायी माना गया है।

सुबह से ही भक्तो का हुजूम माँ के दर्शन को उमड़ पड़ा था। हांथो में फूल-माला और नारियल लिए श्रद्धालु माँ की एक झलक पाने के लिए घंटो कतार में लगे रहें। इस दौरान पूरा वातावरण जय माता दी और जय कालरात्रि माता के उद्घोष से गुंजायमान हो उठा।

रविन्द्रपुरी से कालरात्रि का दर्शन करने पहुंची सीमा सिंह ने बताया कि आज सप्तमी तिथि है। आज के दिन माता जगदम्बा का दर्शन कालरात्रि रूप में करने से सारे कष्ट दूर होते है। माता कालरात्रि से अपने परिवार का सुख मांगने आयी हूँ।

देखिये तस्वीरें 

विज्ञापन