झुन्ना की गिरफ्तारी के लिए कचहरी पर निगहबानी, क्या पूर्वांचल में छुपा है शातिर हत्यारा ?

वाराणसी। हफ़्तों से पुलिस की निगाहों में धूल झोंक कर बच जा रहे एक लाख के इनामी झुन्ना पंडित की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने गियर बदला है। कभी दिल्ली-राजस्थान तो कभी नेपाल भाग जाने वाले झुन्ना को पकड़ने के लिए अब बनारस और मिर्जापुर कचहरियों के आसपास खुफिया जाल बिछाया गया है। पुलिस को अंदेशा है कि पुराने मामले में झुन्ना सरेंडर कर सकता है।

वही, झुन्ना के कुछ खैरख्वाह भी शहर में सक्रिय हैं। वो पुलिस पर दबाव बनाने के लिए उसके एनकाउंटर और गिरफ्तारी की अफवाहों को बार-बार हवा दे रहे हैं। लगतार दो दिनों में पुलिस ने झुन्ना के दो साथियों को एनकाउंटर में गिरफ्तार कर लिया लेकिन अभी भी झुन्ना ग़ायब है। वहीं पुलिस सूत्रों की मानें तो झुन्ना कहीं बाहर नहीं पूर्वांचल में ही कहीं छुपा हुआ है और जल्द ही पुलिस के हत्थे चढ़ जाएगा।

बता दें कि 22 जुलाई को पाइप कारोबारी की लूट के बाद हत्या। उसके बाद 28 अगस्त की रात सथवा के पूर्व प्रधान का अपहरण और 50 लाख की रंगदारी की मांग के मामले में पुलिस झुन्ना की तलाश में लगी हुई थी की 3 सितम्बर को कैंट थाना अंतर्गत मढ़वा निवासी दिव्यांग चाय-पान विक्रेता की शातिर झुन्ना ने अपने साथी रवि पटेल के साथ ताबड़तोड़ गोलियां बरसा के ह्त्या कर दी। इस दौरान मौके पर मज़दूर अज़हरुद्दीन को भी गोली मारी गयी लेकिन वह बच गया।

कोर्ट ने किया भगौड़ा घोषित
दिव्यांग हत्याकांड का मुख्य आरोपी और पाइप कारोबारी की हत्या में शामिल एक लाख के इनामिया बदमाश को सीजीएम अदालत ने बुधवार को भगौड़ा घोषित कर दिया। इसके साथ ही कुर्की की उद्घोषणा जारी की है, जिसके बाद वाराणसी पुलिस शातिर हत्यारे झुन्ना पंडित की संपत्ति को कुर्क करने की तैयारी में जुट गयी है। सारनाथ थाना क्षेत्र के हासिमपुर स्थित उसके घर पर जल्द ही नोटिस चस्पा की जाएगी।

Loading...