क्या है गणेश चौथ का महत्व, जानि‍ए कितने बजे से है शुभ मुहूर्त

विज्ञापन

वाराणसी। इस बार गणेश चौथ व्रत 13 जनवरी सोमवार को है। वैसे तो चौथ हर महीने में पड़ता है, लेकिन माघ माह के कृष्ण पक्ष की तृतीया को पड़ने वाले सकट चौथ या गणेश चौथ का अपना अलग ही धार्मिक महत्व है। हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार, गणेश चतुर्थी के दिन भगवान गणेश की पूजा और व्रत करना फलदायी माना जाता है।

इस व्रत को कई नामों से जाना जाता है। इसे तिलकुटा चौथ, संकठा चौथ, माघी चतुर्थी भी कहा जात है। इस दिन महिलाएं संतान प्राप्ती, संतान की सलामती और उनकी लंबी आयु के लिए गणेश भगवान की पूजा अर्चना करती हैं और पूरे दिन बिना कुछ खाए पिये निर्जला व्रत करती हैं।

इसबार गणेश चौथ के शुभ मुहूर्त चतुर्थी तिथि की शुरुआत 13 जनवरी को शाम 5 बजकर 32 मिनट से है और चौथ का चंद्रमा उदय होने का समय रात 9 बजे है।

इस दिन गणेश भगवान के साथ ही चंद्रमा की भी पूजा-अर्चना की जाती है। महिलाएं पूरा दिन निर्जला उपवास रहने के बाद रात में जब चांद दिखाई पड़ता है तो उसे अर्घ्य देकर छोटा सा हवन पूजन करती हैं।

इसके बाद महिलाएं दूध और शकरकंद खाकर अपना व्रत खोलती हैं। हालांकि अनाज अगले दिन सुबह पूजा के बाद ही ग्रहण किया जाता है।

Loading...